राजस्थान के वाइल्ड लाइफ पर्यटन सर्किट, डेजर्ट सर्किट और इको एडवेंचर सर्किट को दी जाए स्वीकृत : डोटासरा

img

नई दिल्ली में राज्यों के पर्यटन मंत्रियों के एक दिवसीय सम्मेलन

दिल्ली
नई दिल्ली के अशोक होटल में मंगलवार को आयोजित राज्यों के पर्यटन मंत्रियों के एक दिवसीय सम्मेलन में भाग लेते हुए राजस्थान के पर्यटन राज्य मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने केंद्र सरकार से मांग करते हुए कहा कि राजस्थान में पर्यटन की संभावनाओं को साकार करने के लिए केंद्रीय सहयोग अति आवश्यक है। उन्होंने कहा कि राजस्थान के 'वाइल्डलाइफ पर्यटन सर्किट' के साथ साथ दो अन्य प्रोजेक्ट 'डेर्जट सर्किट' और 'इको एडवेंचर सर्किटों' का परीक्षण करवाकर जल्द स्वीकृति प्रदान की जावे ताकि पर्यटकों को बेहतर अवसर उपलब्ध करवाए जा सके। डोटासरा ने दिल्ली के नजदीक 'गोल्डन ट्रायंगल' के नजदीक 'डीग- भरतपुर- कुम्हेर र्सकिट' को भी स्वीकृति के लिए विचार करने की मांग की उन्होंने कहा कि शेखावाटी क्षेत्र की हवेलियों और ऐतिहासिक धरोहरों के लिए एक 'ओपन आर्ट गैलरी' को र्सकिट के रूप में विकसित किया जाए ताकि क्षेत्र में पर्यटन को बढ़ावा दिया जा सके। डोटासरा ने कहा कि राजस्थान में पर्यटन से जुड़ी काफी योजनाओं के कार्यान्वयन में फॉरेस्ट लैंड पर स्वीकृतियों की समस्याएं आ रही है। उन्होंने केंद्रीय मंत्रालय से आग्रह किया कि राजस्थान में पर्यटन साइटों के पूर्ण विकास हेतु फॉरेस्ट लैंड से जुड़े हुए तमाम मुद्दों को जल्द से जल्द सुलझाने में सहयोग किया जाए ताकि राजस्थान में नेचुरल पर्यटन को बढ़ावा दिया जा सके। पर्यटन राज्य मंत्री ने केंद्रीय पर्यटन मंत्रालय की 'बेड ब्रेकफास्ट होमस्टे स्कीम' के दिशा निर्देशों में आंशिक संशोधन की मांग करते हुए कहा कि इसके चिन्हीकरण के लिए निर्धारित समिति का अध्यक्ष भारत सरकार के पर्यटन मंत्रालय के क्षेत्रीय निदेशक के स्थान पर राज्य के निदेशक, पर्यटन को होना चाहिए। जिससे जिला स्तर पर इस स्कीम का प्रभावी रूप से कार्यान्वयन और इसका समन्वय में हो सके। सम्मेलन में श्री डोटासरा ने केंद्रीय मंत्री से मांग करते हुए कहा कि विदेशी मार्केटों में भारत की मार्केटिंग के जो प्रयास किए जाएं उनमें राजस्थान के पर्यटन महत्व को दृष्टिगत रखते हुए जो भी प्रचार-प्रसार सामग्री बनाई जाए उसमंक राजस्थान के पर्यटक उत्पादों को विशेष रूप से शामिल किया जाए। श्री डोटासरा ने ब्रह्मा मंदिर, पुष्कर के 'एट्री प्लाजा' पूर्ण कराए गए कार्यों पर 'आर्केलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया' की आपत्तियों का तुरंत समाधान करवाया जाए ताकि समस्याओं का जल्द निराकरण हो सके। श्री डोटासरा ने कहा कि राजस्थान में पर्यटन को सुरक्षित और पर्यटक की मांग के अनुरूप विकसित करने के लिए पर्यटकों की सुरक्षा राज्य सरकार के लिए महत्वर्पूण मुद्दा है। उन्होंने कहा कि हाल ही में मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने घोषणा कि है कि किसी भी पर्यटक को सुरक्षा संबंधी कोई भी समस्या आती है तो वह सीधे एस.पी. ऑफिस में प्राथमिकी र्दज करवा सकता है जिससे उसकी त्वरित र्कारवाई की जा सके। सम्मेलन में बोलते हुए राज्य मंत्री श्री डोटासरा ने जयपुर के परकोटे को विश्व धरोहर सूची में शामिल करवाने के केंद्रीय प्रयासों की सराहना की। उन्होंने स्वदेश दर्शन योजना के अंर्तगत चार एवं प्रसाद योजना के अंर्तगत एक प्रोजेक्ट राजस्थान के लिए स्वीकृत करन के लिए केंद्रीय पर्यटन मंत्रालय का आभार व्यक्त किया। समारोह में पर्यटन विभाग के निदेशक डॉं. भंवर लाल एवं दिल्ली स्थित पर्यटक स्वागत केन्द्र की अतिरिक्त निदेशक डॉं. गुणजोत कौर ने भी भाग लिया।

whatsapp mail