केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट का जज बनाने के लिए चार नाम तय किए : सूत्र

img

  • सुप्रीम कोर्ट में अभी 27 जज हैं, इन जजों की नियुक्ति के बाद जजों की निर्धारित संख्या 31 पूरी हो जाएगी
  • सूत्रों के मुताबिक, जस्टिस अनिरुद्ध बोस, जस्टिस एएस बोपन्ना, जस्टिस बीआर गवई और जस्टिस सूर्यकांत के नाम तय
  • इससे पहले सरकार ने जस्टिस बोस, जस्टिस बोपन्ना को नियुक्त करने की कॉलेजियम की सिफारिश नकार दी थी

नई दिल्ली
केंद्र सरकार ने बुधवार को सुप्रीम कोर्ट में नियुक्ति के लिए चार जजों के नाम कर लिए हैं। इन जजों की नियुक्ति के साथ ही सुप्रीम कोर्ट में जजों की निर्धारित संख्या 31 पूरी हो जाएगी। अभी सुप्रीम कोर्ट में 27 जज हैं। न्यूज एजेंसी ने सूत्रों के हवाले से बताया कि सुप्रीम कोर्ट ने जस्टिस अनिरुद्ध बोस, जस्टिस एएस बोपन्ना, जस्टिस बीआर गवई और जस्टिस सूर्यकांत के नाम तय किए हैं। इससे पहले केंद्र सरकार ने वरिष्ठता का हवाला देकर जस्टिस बोस और बोपन्ना की नियुक्ति की कॉलेजियम की सिफारिश को नकार दिया था। इसपर सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने केंद्र की दलील को खारिज करते हुए नियुक्ति की सिफारिश दोबारा केंद्र के पास भेज दी थी। इसके अलावा कॉलेजियम ने जस्टिस बीआर गवई और जस्टिस सूर्यकांत की सुुप्रीम कोर्ट में नियुक्ति की सिफारिश की थी। सूत्रों के मुताबिक, राष्ट्रपति से मंजूरी मिलने के बाद इसे लेकर मंगलवार तक नोटिफिकेशन जारी किया जा सकता। जस्टिस बोस न्यायाधीशों की झारखंड हाईकोर्ट में चीफ जस्टिस हैं और जजों की वरिष्ठता के क्रम में 12वें नंबर पर हैं। वहीं, जस्टिस बोपन्ना गुवाहाटी हाईकोर्ट में चीफ जस्टिस हैं और जजों की वरिष्ठता के क्रम में 36वें नंबर पर हैं। जस्टिस गवई बॉम्बे हाईकोर्ट के जज हैं, जबकि जस्टिस सूर्यकांत हिमाचल प्रदेश हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस हैं। 

whatsapp mail