पहली बार मोदी सरकार में छह महिला कैबिनेट मंत्री : सुषमा

img

  • सुषमा स्वराज ने वाराणसी में महिला सम्मेलन में भाषण दिया
  • भाषण की मुख्य बातों को सुषमा स्वराज ने ट्वीट किया
  • सुषमा ने लिखा, नेहरू की पहली कैबिनेट में केवल एक महिला मंत्री थीं

वाराणसी
विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने बुधवार को कहा कि आजादी के बाद से मोदी सरकार पहली ऐसी सरकार है, जिसमें छह महिला कैबिनेट मंत्री हैं। इसमें से दो सदस्य केंद्रीय मंत्रिमंडल की सुरक्षा संबंधी समिति में हैं। वाराणसी में महिला सम्मेलन के दौरान भाषण में कही बातों को सुषमा स्वराज ने ट्वीट किया। सुषमा स्वराज ने लिखा, जवाहर लाल नेहरू की पहली कैबिनेट (1952-57) में केवल एक महिला राजकुमारी अमृत कौर थीं, जो कैबिनेट मंत्री थीं। दूसरी सरकार (1957-62) में कोई महिला कैबिनेट मंत्री नहीं थी। तीसरी सरकार (1962-64) में कैबिनेट मंत्री के रूप में एक महिला डॉ सुशीला नैय्यर थीं। लाल बहादुर शास्त्री की सरकार में डॉ सुशीला नैय्यर (1964-66) को कैबिनेट में जगह दी गई। इसके बाद इंदिरा गांधी ने भी डॉ सुशीला नैय्यर (1966-67) को कैबिनेट में रखा। सुषमा ने कहा, 1967-71, 1971-1977 और फिर 1980-84 के दौरान इंदिरा गांधी ने एक भी महिला को कैबिनेट मंत्री के रूप में नियुक्त नहीं किया। उन्होंने कहा कि राजीव गांधी की कैबिनेट (1984-89) में कैबिनेट मंत्री के रूप में केवल एक महिला मोहसिना किदवई थीं।

whatsapp mail