मासूमों की मौत पर फूटा जनता का आक्रोश, सांसद-विधायक की आई शामत

img

पटना
बिहार में चमकी बुखार से हो रही मौतों के बीच अब लोगों का आक्रोश भी फूटने लगा है। हाजीपुर में लोजपा सांसद और राम विलास पासवान के भाई पशुपति कुमार पारस व विधायक राजकुमार शाह बीमार लोगों के स्वास्थ्य के हालचाल जानने के लिए झोपडिय़ों की ओर रुख करने के दौरान गांव वालो ने जमकर विरोध किया। दोनों नेताओं ने जैसे ही गांव में घुसे उनके पीछे चल रही भीड़ लगातार मुर्दाबाद के नारे लगाती रही। लोजपा विधायक राजकुमार शाह हरिवंशपुर गांव पहुंचे तो लोगों ने उनका घेराव किया और जमकर नारेबाजी की। लोग इस बात से नाराज थे कि चमकी बुखार से इतने बच्चों की मौतें के बाद भी केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान वहां नहीं पहुंचे। गांव वालों विधायक के नदारद रहने से इस कदर नाराज थे कि उन्होंने पैसे देकर खुद को वहां से मुक्त कराया। वैशाली जिले के हरिवंशपुर गांव में केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान और स्थानीय विधायक के लापता होने के बैनर लेकर स्थानीय लोगों ने प्रदर्शन किया। बैनर में लिखा है कि केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान को ढूंढ़कर लाने वाले को 15 हजार रुपए का इनाम दिया जाएगा। लोगों के आक्रोश को देखते हुए लोजपा नेताओं ने गांव का दौरा किया था। 

whatsapp mail