दुनिया देख रही नए भारत का नया जोश: मोदी

img

जलगांव
महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से ठीक एक हफ्ते पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जलगांव से अपने धमाकेदार चुनाव प्रचार का आगाज करते हुए कांग्रेस पर हमला बोला। अनुच्छेद 370, 35ए, तीन तलाक जैसे मुद्दों पर विपक्षी दलों को घेरते हुए पीएम ने चुनौती दी कि अगर कांग्रेस समेत विरोधियों में हिम्मत है तो वे अपने चुनावी घोषणापत्र में यह लिखकर दिखाएं कि वे इस ऐतिहासिक फैसले को पलट देंगे। मोदी ने कहा कि ये विपक्ष के घडिय़ाली आंसू हैं। पाकिस्तान का नाम लिए बगैर उन्होंने कांग्रेस पर पड़ोसी देश की भाषा बोलने का भी आरोप लगाया।

 

पीएम ने भाषण की शुरुआत में ही कहा कि नए भारत का नया जोश दुनिया देख रही है और मजबूती से सुन भी रही है। पीएम ने कहा कि आज मैं विरोधियों को चुनौती देता हूं कि अगर आपमें हिम्मत है तो इस चुनाव में स्पष्ट स्टैंड लेकर सामने आएं। जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के विषय में अनाप-शनाप बातें करने वाले लोग अगर आपमें हिम्मत है तो इस चुनाव में और आने वाले चुनावों में भी घोषणापत्र में ऐलान करें कि वे 370 और 35ए को वापस लाएंगे। उन्होंने कहा कि विरोधियों में हिम्मत है तो ऐलान करें कि 5 अगस्त के निर्णय को बदल देंगे वर्ना ये घडिय़ाली आंसू बहाना बंद करें।

 

मोदी ने कहा कि 5 अगस्त को आपकी भावना के अनुरूप भाजपा-एनडीए सरकार ने अभूतपूर्व फैसला लिया, जिसके बारे में सोचना तक पहले असंभव लगता था। एक ऐसी स्थिति जिसमें जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के गरीब, बहन-बेटियों, दलितों, शोषितों के विकास की संभावनाएं नहीं के बराबर थीं। आज जब हम वाल्मीकि जयंती मना रहे हैं। 70 वर्षों में जम्मू-कश्मीर, लद्दाख में रहने वाले वाल्मीकि समुदाय के लोगों को मानवाधिकारों से भी वंचित रखा गया था। उन्होंने कहा कि उस स्थिति में केवल अलगाववाद का विस्तार हो रहा था। पीएम ने कहा कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख हमारे लिए सिर्फ जमीन का टुकड़ा नहीं है, भारत का मस्तक है। 

whatsapp mail