मार्केट में आ गई है कॉकरोच से बनी ब्रेड, खाने वाले हो जाएं सावधान 

img

ब्राजीली शोधकर्ताओं की एक टीम ने ब्रेड बनाने के लिए जिस आटे का इस्तेमाल किया है उसमें सूखे कॉक्रोचों से बना आटा मिलाया गया है। संयुक्त राष्ट्र के आंकड़ों के अनुसार साल 2050 तक दुनिया की जनसंख्या 9.7 अरब हो जाएगी।शोधकर्ताओं का कहना है कि यही कारण है कि अब खाने में कीड़ों को भी शामिल करने का वक्त आ गया है। वो कहते हैं कीड़े आसानी से मिलते हैं, प्रोटीन से भरे होते हैं और इनकी कीमत भी कम होती है। एक कॉकरोच की एक खास तरह की प्रजाति से बना है। इस प्रजाति को कहते हैं लोकस्ट कॉकरोच (नोफीटा सिनेरा) और ये उत्तर अफ्रीका में मिलता है।ये आसानी से बढ़ते हैं और इनका प्रजनन भी जल्दी होता है लेकिन सवाल ये उठता है कि दुनिया में हजारों तरह के कीड़े-मकोड़े हैं, खाने के लिए कॉकरोच ही क्यों?
इसका मुख्य कारण है - 
ये प्रोटीन के लिए रेड मीट से भी बेहतर उपाय है। जहां रेड मीट का 50 फीसदी हिस्सा प्रोटीन होता है। इसका 70 फीसदी सिर्फ प्रोटीन होता है। कॉकरोच हजारों सालों से दुनिया में हैं और इस कारण इवोल्यूशन के पूरे दौर से होते हुआ आज के दौर तक पहुंचे हैं। दक्षिण ब्राजील के फेडेरल यूनिवर्सिटी ऑफ़ रियो ग्रांद में फूड इंजीनियर आंद्रीसा जेन्तजेन कहती हैं, वातावरण से तालमेल मिलाने और लाखों सालों तक जिंदा रहने के लिए कॉकरोचों ने जरूर कुछ खास गुण अपनाए होंगे।
 

whatsapp mail