चोट खिलाड़ी के कॅरियर का हिस्सा : महेश भूपति 

img

खेल डेस्क
भारतीय डेविस कप टीम के कप्तान महेश भूपति ने एशियाई खेलों की पुरुष युगल स्पर्धा से अंतिम लम्हों में अनुभवी लिएंडर पेस के हटने को अधिक तूल नहीं देते हुए कहा कि चोट खिलाड़ी के करियर का हिस्सा होती हैं और कोर्ट पर उतरने के बाद मैच के हटने की जगह वह चाहेंगे कि खिलाड़ी मुकाबले से पहले ही हट जाए। गौरतलब है कि एशियाई खेलों से पहले पेस अमेरिका में टेनिस टूर्नामेंट खेल रहे थे और उस टूर्नामेंट में लगी चोट के कारण उन्होंने अंतिम समय में एशियाई खेलों से नाम वापस ले लिया। भूपति ने हालांकि कहा कि पेस के हटने से इंडोनेशिया में एशियाई खेलों में उनका अभियान प्रभावित नहीं हुआ और वे पुरुष युगल में स्वर्ण पदक जीतने के अपने लक्ष्य को हासिल करने में सफल रहे। पूर्व दिग्गज टेनिस खिलाड़ी भूपति ने यहां किया मोटर्स के एक कार्यक्रम के दौरान संवाददाताओं से कहा, मैं यह साफ कर देना चाहता हूं कि हमने स्वर्ण पदक जीता। इससे (पेस के हटने से) हमारा अभियान बिलकुल भी प्रभावित नहीं हुआ। मुझे यह सूचना मिली थी कि एशियाई खेलों से पहले टूर्नामेंट में खेलते हुए लिएंडर चोटिल हो गया था। इसके अलावा मुझे कोई जानकारी नहीं है। जहां तक हमारे अभियान के प्रभावित होने का सवाल है तो ऐसा नहीं हुआ। हमारा लक्ष्य युगल स्वर्ण पदक जीतना था और हम इसे जीतने में सफल रहे। मैं नहीं चाहूंगा कि कोई खिलाड़ी मैच के दौरान मुकाबले से हटे। इससे बेहतर है कि अगर कोई खिलाड़ी चोटिल है तो वह कोर्ट पर उतरने से पहले ही हट जाए।

whatsapp mail