बैडमिंटन चैम्पियनशिप में एएआई को दिलाई सातवीं बार जीत

img

गुवाहाटी
एशियाई जूनियर चैम्पियन लक्ष्य सेन ने सोमवार को अपने मिश्रित युगल साथियों-श्लोक रामचंद्रन और श्रेयांसी परदेसी के साथ मिलकर बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए एअरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एएआई) को यहां आयोजित योनेक्स सनराइड 74वीं इंटर स्टेट-इंटर जोनल बैडमिंटन चैम्पियनशिप का खिताब दिला दिया।एएआई को सातवीं बार यह खिताब मिला है।17 साल के लक्ष्य ने पुरुष एकल मुकाबले में रेलवे के शुभांकर डे को 55 मिनट तक चले मुकाबले में 21-17, 21-17 से हराया। इसी तरह महिला एकल में आकर्षी कश्यप ने रेलवे की अनुरा प्रभुदेसाई को 21-12, 21-14 से हराकर अपनी टीम को 2-0 की बढ़त दिला दी।कबीर कांजारकार और हेमानागेंद्र बाबू ने एएआई के श्लोक और चिराग सेन को 21-18, 17-21, 21-18 से हराया।महिला युगल में रेलवे की रिया मुखर्जी और अनुरा प्रभुदेसाई ने अपनी टीम के लिए अहम मुकाबला जीता और स्कोर 2-2 कर दिया।अनुरा और रिया ने एएआई की परदेसी और स्नेहा सांतीलाल को 21-8, 21-8 से हराया।इसके बाद मिश्रित युगल मुकाबला हुआ,जो निर्णायक था। इस मुकाबले में परदेसी ने श्लोक के साथ मिलकर कनिका कानवाल और अक्षय राउत की जोड़ी पर 2109,17-21,21-8 से हराकर अपनी टीम को 3-2 से जीत दिला दी। विजेता टीम को 3.5 लाख रुपये का पुरस्कार मिला जबकि उपविजेता टीम को 2.5 लाख रुपये मिले। तीसरे और चौथे स्थान पर आने वाली टीमों को इंटर जोनल स्तर पर उनके प्रदर्शन के लिए 2-2 लाख रुपये मिले।सीनियर नेशनल्स के लिए सीड तय किए गए इंटर जोनल स्तर की प्रतियोगिता की समाप्ति के साथ ही योनेक्स सनराइज 83वीं सीनियर नेशनल चैम्पियनशिप के लिए सोमवार को सीड तय किए गए।यह प्रतियोगिता 12 फरवरी से गुवाहाटी में ही खेली जाएगी। इस प्रतियोगिता में देश के शीर्ष बैडमिंटन खिलाड़ी हिस्सा लेंगे।सीनियर नेशनल चैम्पियनशिप का नौ साल के अंतराल के बाद पूर्वोत्तर में आयोजन हो रहा है। इसमें टॉप-8 एकल खिलाडिय़ों सीधे प्री-क्वार्टर फाइनल में जगह मिलेगी जबकि टॉप-4 टीमों (युगल में) को प्री-क्वार्टर फाइनल से अपना सफर शुरू करने की आजादी मिलेगी। 18 जनवरी को जारी बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड रैंकिंग के आधार पर सीडिंग तैयार की गई है।सभी 50 शटलरों को सीधा प्रवेश मिला है और जो जगह खाली बच गए थे,उनके लिए बीएआई रैंकिंग को आधार माना गया है। पीएसपीबी को पुरुष एकल में टॉप-3 सीड मिले हैं। 2015 के चैम्पियन समीर वर्मा, 2014 के चैम्पियन साई प्रणीत और 2012 के चैम्पियन पारुपल्ली कश्यप इनमें शामिल हैं। रेलवे के शुभांकर डे को चौथी सीड मिली है। इसी तरह उप्र के अंसल यादव को पांचवीं सीड मिली है। एएआई के चिराग सेन को छठी सीड मिली है जबकि उत्तराखंड के बोधित जोशी और हरियाणा के कार्तिक जिंदल को पुरुष एकल के लिए सातवीं और आठवीं सीड मिली है।आंध्र प्रदेश की पीवी सिंधु जिन्होंने 2011 और 2013 में यह खिताब जीता था और साथ ही साथ बीते साल उपविजेता रही थीं, को पुरुष एकल में टॉप सीड मिला है। मौजूदा चैम्पियन सायना नेहवाल पीएसपीबी की एकमात्र सीडेड महिला एकल खिलाड़ी हैं और खिताब बचाने के लिए तैयार है। सायना चौथी बार नेशनल चैम्पियनशिप के लिए प्रयास करेंगी।एएआई की श्रेयांसी परदेसी को महिला एकल में तीसरी,असम की अस्मिता चालिहा को चौथी, रेलवे की कनिका कानवाल और अनुरा प्रभुदेसाई को पांचवीं और छठी सीड मिली है।आंध्र की साई उत्तेजिता राव चुक्का को सातवीं और एएआई की आकर्षी कश्यप को आठवीं सीड मिली है।

whatsapp mail