9 साल बाद ऑस्ट्रेलिया ने भारत में जीती वन-डे सीरीज

img

नई दिल्ली
दिल्ली के फिरोजशाह कोटला में खेले गए पांचवें और आखिरी मैच में भारतीय टीम को 35 रन से हार का सामना करना पड़ा। इसी के साथ भारत ने पांच मैच की वन-डे सीरीज 2-3 से गंवा दी। ऑस्ट्रेलिया ने भारत में आखिरी बार 2010 में वन-डे सीरीज जीती थी। इस तरह नौ साल बाद कंगारुओं ने भारत को उसी के घर पर वन-डे सीरीज में हराया। यह विश्व कप से पहले भारत का आखिरी वन-डे मुकाबला था। ऐसे में पांच मैच की सीरीज में 2-0 से बढ़त के बावजूद तीन लगातार हार विश्व कप की तैयारियों पर प्रश्नचिन्ह भी लगाता है।देश की राजधानी में बुधवार को खेले गए इस मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर भारत के सामने 273 रन का लक्ष्य रखा। इसके जवाब में में पूरी भारतीय टीम 237 रन पर ही सिमट गई। भारतीय बल्लेबाजी ने आज बेहद निराश किया। रोहित शर्मा ने सर्वाधिक 56 रन बनाए। उपकप्तान के अलावा अंत में केदार जाधव और भुवनेश्वर कुमार ने जरूर अच्छे हाथ दिखाए, लेकिन टीम को जीत दिलाने में वे भी नाकामयाब रहे।इसके पहले लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत निराशाजनक रही। पिछले मैच के शतकवीर रहे शिखर धवन दिल्ली में फिर जल्दी आउट हो गए। अपने घरेलू दर्शकों के बीच धवन 15 गेदों में 12 रन बनाकर चलते बने। तेज गेंदबाज पैट कमिंस ने विकेट के पीछे एलेक्स कैरी के हाथों उन्हें लपकवाया। इसके बाद बल्लेबाजी करने आए कप्तान विराट कोहली ने रोहित शर्मा के साथ मिलकर टीम को संभालने की कोशिश की। दोनों के बीच दूसरे विकेट के लिए 53 रन की साझेदारी हो चुकी थी, तभी मार्कस स्टोइनिस की अतिरिक्त उछाल वाली गेंद पर विराट गच्चा खा गए। ऑफस्टंप के बाहर जा रही गेंद को मारने के प्रयास में विकेट के पीछे एलेक्स कैरी ने उन्हें धर लिया। आउट होने से पहले विराट ने 22 गेंदों में 20 रन बनाए। अब भारत का स्कोर 2/68 हो चुका था। विश्व कप टीम के लिए अपनी दावेदारी ठोक रहे ऋषभ पंत से आज टीम को बेहद उम्मीदें थी, लेकिन उन्होंने भी निराश ही किया। 16 गेंदों में 16 रन बनाकर लियोन की फिरकी में फंस गए और स्लिप में कैच दे बैठे।

whatsapp mail