2 मैच बाद ही हवा में उडऩे लगे वेस्टइंडीज के कोच

img

पुणे
वेस्टइंडीज के कोच स्टुअर्ट लॉ खुश हैं कि उनके बल्लेबाज भारत को अपनी गेंदबाजी लाइन अप में बदलाव कराने के लिए मजबूर करने में सफल रहे। इसके चलते भारत को अंतिम तीन वनडे मैचों के लिए अपने मुख्य तेज गेंदबाजों भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह को टीम में शामिल करना पड़ा। भारतीय गेंदबाजों ने दोनों वनडे में बल्लेबाजों के अनुकूल परिस्थितियों में 320 से ज्यादा रन लुटाए, जिसमें उमेश यादव और मुहम्मद शमी प्रभावित करने में असफल रहे। दूसरे चरण में भुवनेश्वर और बुमराह की वापसी तय थी, लेकिन लॉ को लगता है कि उनके बल्लेबाजों ने मेजबानों को बदलाव करने के लिए मजबूर किया। तीसरे वनडे की पूर्व संध्या पर लॉ ने कहा, हां, मैं उनकी वापसी के बारे में सोचना चाहूंगा। शायद यही कारण है कि उन्होंने अपने दो अनुभवी वनडे गेंदबाजों को बुलाया है। वह इस बात से खुश हैं कि भारतीय खुद से कुछ सवाल पूछ रहे हैं। लॉ ने कहा, इसलिए उम्मीद है कि हम भारतीयों को खुद से सवाल पूछने के लिए मजबूर कर रहे हैं। वे हमें खुद से सवाल पूछने के कारण दे रहे थे, लेकिन इस चरण में हम उनके सवालों का अच्छा जवाब दे रहे हैं। विराट कोहली के शानदार प्रदर्शन ने इस सीरीज में हर प्रदर्शन को फीका कर दिया है, लेकिन लॉ उम्मीद कर रहे हैं कि भारतीय कप्तान आगे ऐसा नहीं कर पाएंगे। उन्होंने कहा, 'आप विराट को कैसे आउट कर सकते हो? उन्होंने हमें 40 रन पर मौका दिया था। वह शानदार खिलाड़ी हैं। मुझे उनका अपनी पारी को पूरा करने का तरीका बहुत पसंद आता है। ऐसा लगता है कि वह काफी कड़ी मेहनत कर रहे हैं, लेकिन वह इसे बड़ी आसानी से कर रहे हैं। इसलिए हमने उनके लिए योजना बनाई है। इस समय वह काफी अच्छे जवाब दे रहे हैं, इसलिए हमें उनकी तकनीक और काबिलियत पर सवाल पूछते रहना होगा। आखिरकार वह भी इंसान ही हैं, लेकिन हमें मौका ढूंढना होगा, हमें मौकों का फायदा उठाना होगा।' कैरेबियाई कोच ने शिमरान हेटमायर की भी तारीफ की, जो भारतीय गेंदबाजों खासतौर से स्पिनरों पर हमला बोल रहे थे। लॉ ने कहा, 'हेटमायर बेहतरीन खिलाड़ी हैं। शाई होप ने दूसरे मैच में शतक जड़ा। कुल मिलाकर हमारे जैसी अनुभवहीन टीम के लिए जो हमारे पास है, वे अपना सिर गर्व से ऊंचा कर सकते हैं। 

whatsapp mail