एशिया कप 2018 : भारत-पाक मुकाबले पर टिकी सभी की नजऱ, इस दिग्गज की खलेगी कमी

img

दुबई
भारत के स्टार क्रिकेटर विराट कोहली की अनुपस्थित से भले ही यहां शनिवार को शुरू होने वाले छह देशों के एशिया कप क्रिकेट टूर्नामेंट की चमक फीकी हो गई हो लेकिन सबसे रोमांचक मुकाबला भारत और पाकिस्तान के बीच देखने को मिलेगा। भारत और पाकिस्तान की टीमों के बीच दो मैच तो तय है लेकिन अगर दोनों टीमें फाइनल में पहुंचती है तो तीन मुकाबलों की संभावना है। टूर्नामेंट की शुरूआत शनिवार को बांग्लादेश और श्रीलंका के बीच मैच से होगी। भारत और पाकिस्तान के बीच ग्रुप लीग में एक मैच होगा जबकि दूसरा सुपर चार चरण में होगा। लेकिन आयोजक, प्रसारक और समर्थन 28 सितंबर को होने वाले फाइनल में भी दोनों टीमों के पहुंचने की उम्मीद करेंगे। भारत के पास यह देखने का मौका होगा कि टीम कोहली की अनुपस्थिति में दबाव भरे हालात में कैसे खेलेगी। टीम अपना अभियान 18 सितंबर को हांगकांग के खिलाफ शुरू करेगी जिसके बाद उसे अगले दिन पाकिस्तान से भिडऩा है। कोहली को इंग्लैंड दौरे के बाद आराम दिया गया है जिसमें भारत को टेस्ट श्रृंखला में 1-4 से हार का मुंह देखना पड़ा था। रोहित शर्मा सफेद गेंद के शानदार खिलाड़ी रहे हैं, पर अच्छी टीमों के खिलाफ उनके नेतृत्व कौशल की परीक्षा नहीं हुई है। पिछले साल दिसंबर में श्रीलंका के खिलाफ उन्होंने कप्तानी संभाली थी लेकिन वो टीम इतनी मजबूत नहीं थी। भारत का लक्ष्य अपने मध्यक्रम संयोजन का समाधान निकालने के अलावा महेंद्र सिंह धौनी के लिये बल्लेबाजी क्रम में सही स्थान ढूंढने का होगा। लेकिन इसमें मुख्य केंद्र इस बात पर होगा कि भारतीय टीम बेहतरीन पाकिस्तान से कैसे खेलती है जिसमें मोहम्मद आमिर के रूप में विश्व स्तरीय तेज गेंदबाज, मजबूत ऑलराउंडर हसन अली, सलामी बल्लेबाज फखर जमां और प्रतिभाशाली बल्लेबाज बाबर आजम और हैरिस सोहेल मौजूद हैं। एशिया कप में बांग्लादेश ने लगातार अच्छा प्रदर्शन किया है। पिछले चरण में घरेलू मैदान पर बांग्लादेश की टीम फाइनल में पहुंचने में सफल रही थी, हालांकि पिछली बार एशिया कप टी-20 प्रारूप में खेला गया था। साल 2012 में बांग्लादेश 50 ओवर के प्रारूप के फाइनल में खेले थे। मौजूदा समय में खिलाडिय़ों को देखते हुए बांग्लादेश इस समय 50 ओवर की बेहतर टीम है।

whatsapp mail