Warning: mysqli_connect(): (42000/1226): User 'jaltedeep' has exceeded the 'max_user_connections' resource (current value: 30) in /home/dainikjalte1305/public_html/Admin/config.php on line 8

Warning: mysqli_query() expects parameter 1 to be mysqli, boolean given in /home/dainikjalte1305/public_html/state/header.php on line 109

Warning: mysqli_query() expects parameter 1 to be mysqli, boolean given in /home/dainikjalte1305/public_html/state/header.php on line 110

Warning: mysqli_fetch_array() expects parameter 1 to be mysqli_result, null given in /home/dainikjalte1305/public_html/state/header.php on line 111

आईपीएल ट्रॉफी विवाद पर बीसीसीआई कार्यवाहक अध्यक्ष पर बरसी डायना एडुल्जी

img

नई दिल्ली
प्रशासकों की समिति (सीओए) की सदस्य डायना एडुल्जी ने गुरुवार को कहा कि वह आईपीएल की विजेता ट्राफी को इसलिए सौंपना चाहती थी क्योंकि उन्हें लगा कि बीसीसीआई के कार्यवाहक अध्यक्ष सी के खन्ना ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ दिल्ली में वनडे मैच के दौरान पुरस्कार न देकर 'प्रोटोकॉल का अनादर' किया। एडुल्जी आईपीएल चैंपियन टीम को ट्राफी सौंपना चाहती थी लेकिन सीओए के उनके साथी लेफ्टिनेंट जनरल रवि थोडगे ने उनकी बात नहीं मानी। थोडगे का मानना था कि अध्यक्ष द्वारा ट्राफी सौंपे जाने की परंपरा का निर्वाह किया जाना चाहिए। आखिर में खन्ना ने ही ट्राफी सौंपी। खन्ना के लिये ट्राफी सौंपना हमेशा प्राथमिकता रही है लेकिन एडुल्जी ने अपने लंबे बयान में यह स्पष्ट नहीं किया कि यह उनके लिये भी इतना महत्वपूर्ण क्यों था। एडुल्जी ने प्रेस विज्ञप्ति में कहा, सीओए की आठ अप्रैल को हुई बैठक में इस मसले पर चर्चा हुई थी। चर्चा के दौरान मैंने जिक्र किया कि कार्यवाहक अध्यक्ष (सीके खन्ना) ने दिल्ली में द्विपक्षीय मैच के दौरान ट्राफी सौंपने के अपने अधिकार का इस्तेमाल नहीं किया था। उन्होंने कहा कि उन्होंने (खन्ना) प्रोटोकॉल का अनादर किया तथा राज्य संघ के एक पदाधिकारी को ट्राफी देने की अनुमति दी गयी और इसलिए आईपीएल फाइनल में सीओए सदस्यों को ट्राफी सौंपनी चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि कार्यवाहक अध्यक्ष ने बीसीसीआई अध्यक्ष पद का अपमान किया।

whatsapp mail