इंग्लैंड ने सांत्वना जीत दर्ज की, भारत को वाइटवाश से रोका

img

मुंबई
इंग्लैंड की महिला टीम ने मुश्किल स्थिति से उबरते हुए तीसरे और अंतिम वनडे में दो विकेट से सांत्वना जीत दर्ज की जिससे उसने मेजबान भारत को तीन मैचों की सीरीज में वाइटवाश करने से रोक दिया। भारत के आठ विकेट पर 205 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड की टीम 49 रन पर पांच विकेट गंवा जूझ रही थी, जिसके बाद आल राउंडर डानी वाट (82 गेंद में 56 रन) ने कप्तान हीथर नाइट (63 गेंद में 47 रन) और जार्जिया एलविस (53 गेंद में नाबाद 33 रन) के साथ दो अहम साझेदारियां निभाकर टीम की जीत में अहम भूमिका निभायी। इंग्लैंड ने 48.5 ओवर में आठ विकेट पर 208 रन बनाकर दो महत्वपूर्ण अंक जुटाये क्योंकि यह तीन मैचों की सीरीज आईसीसी महिला चैम्पियनशिप का हिस्सा है। विश्व चैम्पियन टीम सातवें स्थान पर काबिज है और उसे 2021 विश्व कप में सीधे क्वालीफाई करने के लिये शीर्ष चार में रहने की जरूरत है। भारतीय टीम पहले दो मैचों में जीत दर्ज कर पहले ही श्रृंखला अपने नाम कर चुकी है। झूलन गोस्वामी तीन विकेट लियेइस लक्ष्य का बचाव करते हुए एमी जोंस (13), लॉरेन विनफील्ड (02) और तमसिन ब्यूमोंट (21) के विकेट झटककर इंग्लैंड के शीर्ष क्रम को तहस नहस कर दिया। जल्द ही उनका स्कोर चार विकेट पर 40 रन हो गया जब आफ स्पिनर दीप्ति शर्मा ने फार्म में चल रही नटाली शाइवर (01) को आउट किया। इसके बाद तेज गेंदबाज शिखा पांडे ने सारा टेलर (02) का विकेट हासिल किया जिससे इंग्लैंड ने 49 रन पर अपनी आधी टीम गंवा दी। लेकिन फिर वाट और नाइट ने छठे विकेट के लिये 69 रन की अहम साझेदारी निभायी। नाइट के आउट होने के बाद वाट ने सातवें विकेट के लिये एलविस के साथ 56 रन की भागीदारी की और टीम को लक्ष्य के करीब पहुंचाया। एलविस और आन्या श्रबसोल (नाबाद चार) ने फिर सयंम बरतते हुए इंग्लैंड को जीत दिलायी। इससे पहले मध्यम गति की गेंदबाज कैथरीन ब्रंट के पांच विकेट झटकने से भारतीय टीम उप कप्तान स्मृति मंधाना और पूनम राउत द्वारा रखी गयी अच्छी नींव का फायदा नहीं उठा सकी और आठ विकेट पर 205 रन ही बना सकी। तैंतीस साल की ब्रंट ने 28 रन देकर पांच विकेट अपने नाम किये और भारतीय टीम के मध्यक्रम को नुकसान पहुंचाया। इससे मेजबान टीम का स्कोर एक विकेट पर 129 रन से सात विकेट पर 150 रन हो गया और टीम इससे उबरने में विफल रही। हालांकि दीप्ति शर्मा (नाबाद 27 रन) और शिखा पांडे (26) ने आठवें के लिये 47 रन की भागीदारी निभाकर सुनिश्चित किया कि भारतीय टीम 200 रन का आंकड़ा पार कर ले। बल्लेबाजी का फैसला करने के बाद मेजबान टीम ने जेमिमा रोड्रिगेज (शून्य) का विकेट गंवा दिया। लेकिन मंधाना (74 गेंद में 66 रन) और पूनम (97 गेंद में 56 रन) ने दूसरे विकेट के लिये 129 रन की भागीदारी निभायी। ये दोनों पहले सतर्कता से खेलीं और फिर उन्होंने लूज गेंदों को पीटना शुरू किया। मंधाना ने पुल शाट और ड्राइव लगाते हुए अपनी पारी के दौरान आठ चौके लगाये व एक छक्का जड़ा। वहीं पूनम ने सात बाउंड्री लगायी। लेकिन ब्रंट ने 29वें ओवर में मंधाना और पूनम दोनों को आउट कर इंग्लैंड को वापसी करायी। इसके बाद उन्होंने मोना मेशराम (शून्य) और फिर मिताली राज (07) को आउट किया। फिर तानिया भाटिया (शून्य) और झूलन गोस्वामी (01) भी सस्ते में आउट हो गयीं। दोनों टीमें अब तीन मैचों की ट्वेंटी20 अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला खेलने के लिये गुवाहाटी रवाना होगी। 

whatsapp mail