कीवियों के खिलाफ भारतीयों ने लगाई जीत की हैट्रिक, 10 साल बाद सीरीज की अपने नाम

img

माउंट माउंगानुइ
गेंदबाजों के बाद अपने शीर्षक्रम के बल्लेबाजों के उम्दा प्रदर्शन के दम पर भारत ने न्यूजीलैंड को सात विकेट से हराकर लगातार तीसरा एक दिवसीय क्रिकेट मैच जीतकर पांच मैचों की श्रृंखला में 3-0 से अजेय बढत बना ली और विश्व कप से पहले अपने प्रतिद्वंद्वियों के लिये खतरे की घंटी भी बजा दी। आस्ट्रेलिया दौरे पर ऐतिहासिक जीत के बाद कप्तान विराट कोहली की टीम ने न्यूजीलैंड में भी पिछले दस साल में पहली जीत दर्ज की। इससे पहले भारत ने 2009 से अब तक यहां एकमात्र वनडे श्रृंखला खेली थी जिसमें पराजय झेलनी पड़ी। पिछले एक साल में विदेशी सरजमीं पर दक्षिण अफ्रीका और आस्ट्रेलिया के बाद भारत की यह तीसरी जीत है। इंग्लैंड में भारतीय टीम नहीं जीत सकी है जहां इस साल विश्व कप होना है। भारत की यह जीत पूरे टीम प्रयास का नतीजा थी जिसमें गेंदबाजों ने पहले 49 ओवर में न्यूजीलैंड को 243 रन पर आउट कर दिया। एक टीवी शो पर महिला विरोधी बयानबाजी के कारण निलंबन झेल चुके हार्दिक पंड्या का वापसी के बाद यह पहला मैच था जिसमें उन्होंने 10 ओवरों में 45 रन देकर दो विकेट लिये। भारत की यह जीत एकतरफा ही रही जिसमें कप्तान विराट कोहली ने 74 गेंद में 60 और उपकप्तान रोहित शर्मा ने 77 गेंद में 62 रन बनाये। दोनों ने दूसरे विकेट के लिये 113 रन जोड़े जिससे भारत ने 43 ओवर में तीन विकेट पर 245 रन बनाकर जीत दर्ज की। 
पिच धीमी होने के कारण दोनों को स्ट्रोक्स खेलने में उतनी आसानी नहीं हो रही थी लेकिन ढीली गेंदों को उन्होंने नसीहतें दी। भारत ने पहला विकेट शिखर धवन के रूप में गंवाया जो 28 रन बनाकर ट्रेंट बोल्ट की गेंद में स्लिप में कैच देकर लौटे। इसके बाद रोहित और कोहली ने शतकीय साझेदारी की। अपना 39वां अर्धशतक जमाने वाले रोहित को सेंटनेर ने स्टम्प आउट किया। अपनी पारी में उन्होंने तीन चौके और दो छक्के लगाये। वहीं वनडे में 49वां अर्धशतक लगाने वाले कोहली ने अपनी पारी में छह चौके और एक छक्का जड़ा।वह बोल्ट की गेंद पर एक्स्ट्रा कवर में हेनरी निकोल्स को कैच देकर लौटे। इसके बाद दिनेश कार्तिक ने 38 गेंद में 38 और अंबाती रायुडू ने 42 गेंद में 40 रन बनाकर टीम को जीत तक पहुंचाया। दोनों ने चौथे विकेट के लिये 77 रन की नाबाद साझेदारी की। इससे पहले न्यूजीलैंड के बल्लेबाज धीमी पिच पर भारतीय आक्रमण का सामना नहीं कर सके। रोस टेलर (106 गेंद में 93 रन) और टाम लाथम (64 गेंद में 51 रन) के बीच चौथे विकेट के लिये 119 रन की साझेदारी को छोड़कर कोई बड़ी साझेदारी नहीं बन सकी। भारत के लिये मोहम्मद शमी ने नौ ओवरों में 41 रन देकर तीन विकेट लिये जो विश्व कप के लिये तीसरे तेज गेंदबाज की जगह लगभग पक्की कर चुके हैं। उन्होंने कोलिन मुनरो (सात) को स्लिप में रोहित शर्मा के हाथों लपकवाकर न्यूजीलैंड को पहला झटका दिया। मार्टिन गुप्टिल को भुवनेश्वर कुमार ने विकेट के पीछे दिनेश कार्तिक के हाथों लपकवाया। महेंद्र सिंह धोनी को मांसपेशी में चोट लगी होने के कारण कार्तिक उनकी जगह खेले हैं।

whatsapp mail