भारतीय टीम बेहद संतुलित, विश्व कप की प्रबल दावेदार: रिचर्डसन

img

नई दिल्ली
यह संयोग ही था कि जिस दिन भारतीय टीम पिछले आठ साल में अपने न्यूनतम स्कोर पर आउट हुई उसी दिन आईसीसी के मुख्य कार्यकारी डेव रिचर्डसन ने उसे इंग्लैंड में इस साल होने वाले वनडे विश्व कप में खिताब का प्रबल दावेदार करार दिया। भारतीय टीम न्यूजीलैंड में चौथे एकदिवसीय मैच में केवल 92 रन पर ढेर हो गयी लेकिन रिचर्डसन ने इसे खास तवज्जो नहीं दी। उन्होंने इस संबंध में पूछे गये सवाल को यह कहकर टाल दिया कि ''हर टीम का अपना दिन होता है। लेकिन दक्षिण अफ्रीका के इस पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज ने वर्तमान भारतीय टीम को बेहद संतुलित करार दिया। उन्होंने मेजबान इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका के साथ विराट कोहली की टीम को भी खिताब के दावेदारों में शामिल किया। रिचर्डसन ने यहां आईसीसी और कोका-कोला के बीच पांच साल के करार के अवसर पर आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा, ''विश्व कप 2019 में दस सर्वश्रेष्ठ टीमें भाग लेंगी। भारत इस समय बहुत अच्छा खेल रहा है और खिताब का दावेदार है। इंग्लैंड वनडे में सर्वश्रेष्ठ टीम है जबकि दक्षिण अफ्रीका भी अच्छा प्रदर्शन कर रहा है। विश्व कप कौन जीतेगा इस तरह की भविष्यवाणी करना मुश्किल है। उन्होंने कोहली की टीम की सौरव गांगुली की अगुवाई वाली टीम से तुलना करते हुए कहा कि वर्तमान टीम हर विभाग में मजबूत है जबकि पूर्ववर्ती टीमों की गेंदबाजी कमजोर थी। गांगुली की अगुवाई में भारतीय टीम विश्व कप 2003 के फाइनल में पहुंची थी। रिचर्डसन ने कहा, ''भारत ने पिछले चार-पांच वर्षों में जिस तरह से प्रगति की है वह शानदार है। सौरव गांगुली की अगुवाई वाली भारतीय टीम भी मजबूत थी। गांगुली वाली टीम में वीरेंद्र सहवाग, सचिन तेंदुलकर और राहुल द्रविड़ जैसे शानदार बल्लेबाज थे लेकिन उनकी गेंदबाजी थोड़ा कमजोर थी जिससे टीम कई बार अपेक्षित परिणाम हासिल नहीं कर पायी थी। वर्तमान टीम बेहत संतुलित है। उसकी गेंदबाजी भी मजबूत है और उसे हराना आसान नहीं है।

whatsapp mail