इंग्लैंड के खिलाफ क्लीन स्वीप करने उतरेगी भारतीय महिला क्रिकेट टीम

img

मुंबई
श्रृंखला पहले ही अपने नाम करके आत्मविश्वास से भरी भारतीय महिला क्रिकेट टीम गुरुवार को यहां इंग्लैंड के खिलाफ होने वाले तीसरे और अंतिम एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच में जीत के साथ मेहमान टीम का सूपड़ा साफ करने के इरादे से उतरेगी। मिताली राज की अगुआई वाली भारतीय टीम ने पहले एकदिवसीय मैच में विश्व चैंपियन इंग्लैंड को 66 रन से हराने के बाद दूसरे मैच में सात विकेट की जीत के साथ तीन मैचों की श्रृंखला में 2-0 की विजयी बढ़त बना रखी है। इससे भी महत्वपूर्ण यह है कि भारत ने आईसीसी महिला चैंपियनशिप में चार अहम अंक हासिल किए हैं जिससे 2021 विश्व कप में सीधे क्वालीफाई करने की उसकी उम्मीदों को फायदा मिल सकता है। भारत के पास दो और अंक हासिल करने का मौका है और ऐसे में पूरी संभावना है कि भारत अंतिम एकादश में किसी तरह का प्रयोग नहीं करना चाहेगा। नए कोच डब्ल्यूवी रमन के मार्गदर्शन में भारत ने विजयी लय हासिल कर ली है। सलामी बल्लेबाज और आईसीसी की साल की सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी स्मृति मंधाना बेहतरीन फार्म में हैं। दूसरे मैच में उनके 63 रन की बदौलत भारत ने श्रृंखला में विजयी बढ़त बनाई। एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सर्वाधिक रन बनाने वाली अनुभवी मिताली ने पिछले दो मैचों में 44 और 47 रन की प्रभावी पारियां खेली। स्मृति और कप्तान मिताली अपनी इस फार्म को अंतिम वनडे में भी बरकरार रखना चाहेंगी। अनुभवी पूनम राउत को हरलीन देओल पर तरजीह देते हुए एकदिवसीय टीम में वापसी का मौका दिया गया और उन्होंने 32 रन की उपयोगी पारी खेलकर अपने चयन को सही साबित किया। पूनम की मौजूदगी से मध्यक्रम की समस्या कुछ हल हुई है लेकिन उन्हें और सलामी बल्लेबाज जेमिमा रोड्रिग्स को अच्छी शुरुआत को बड़ी पारी में बदलने की जरूरत है। दीप्ति शर्मा, मोना मेशराम और विकेटकीपर तानिया भाटिया को भी शीर्ष क्रम के विफल रहने पर उपयोगी पारियां खेलने की जरूरत है। भारत के स्पिनरों और तेज गेंदबाजों दोनों ने प्रभावित किया है। अनुभवी झूलन गोस्वामी और शिखा पांडे क्रमश: पांच और छह विकेट चटकाकर विरोधी टीम को परेशान करने में सफल रही हैं। इसके अलावा इंग्लैंड को दीप्ति शर्मा, पूनम यादव और एकता बिष्ट की स्पिन तिकड़ी का सामना करने में भी दिक्कत हो रही है। बायें हाथ की स्पिनर एकता ने पहले मैच में चार विकेट चटकाए थे। इंग्लैंड को उस समय बड़ा झटका लगा जब आलराउंडर सोफी एकलेस्टोन हाथ में फ्रेक्चर के कारण तीसरे एकदिवसीय और बाकी दौरे से बाहर हो गईं। मेहमान टीम प्रतिष्ठा बचाने और आईसीसी चैंपियनशिप में महत्वपूर्ण दो अंक हासिल करने की कोशिश करेगी। इसके बाद गुवाहाटी में अगले महीने तीन टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों की श्रृंखला भी होनी है। आलराउंडर नताली स्किवर और कप्तान हीथर नाइट के अलावा टीम के अन्य बल्लेबाज उम्मीद के मुताबित प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं। इंग्लैंड के पास आन्या श्रुबसोल, जार्जिया एल्विस और कैथरीन ब्रंट जैसी तेज गेंदबाज हैं जो मेजबान टीम के बल्लेबाजों को परेशान करने में सक्षम हैं। भारतीय टीम हालांकि अपनी बेहतरीन फार्म के कारण एक बार फिर प्रबल दावेदार के रूप में उतरेगी लेकिन इंग्लैंड की टीम मेजबान टीम को क्लीन स्वीप से रोकने में सक्षम है।

टीमें इस प्रकार हैं:
भारतीय महिला टीम: मिताली राज (कप्तान), झूलन गोस्वामी, स्मृति मंधाना, जेमिमा रोड्रिग्स, दीप्ति शर्मा, तानिया भाटिया, आर कल्पना, मोनिका मेशराम, एकता बिष्ट, राजेश्वरी गायकवाड़, पूनम यादव, शिखा पांडे, मानसी जोशी, पूनम राउत , हरलीन देओल।
इंग्लैंड महिला टीम: हीथर नाइट (कप्तान), टैमी ब्यूमोंट, कैथरीन ब्रंट, केट क्रास, सोफिया डंकले, सोफी एकलेस्टोन, जार्जिया एल्विस, एलेक्स हार्टले, एमी जोन्स, लारा मार्श, नताली स्किवर, आन्या श्रुबसोल, सारा टेलर, लारेन विनफील्ड और डैनी वाट। 
समय: मैच सुबह नौ बजे शुरू होगा।

whatsapp mail