ऑस्ट्रेलिया वनडे के लिए खलील अहमद और उनादकट पर होगी मुख्य चर्चा

img

मुंबई
भारतीय चयनकर्ता आस्ट्रेलिया के खिलाफ सीमित ओवरों की श्रृंखला के लिये विश्व कप को ध्यान में रखकर शुक्रवार को यहां टीम का चयन करेंगे। विश्व कप के लिये अभी दो स्थान ही ऐसे बचे हैं जिनमें खिलाड़ी तय नहीं किये गये हैं। इनमें बायें हाथ के तेज गेंदबाज का एक स्थान भी शामिल है जिसमें चयनकर्ता जयदेव उनादकट और खलील अहमद में से किसी एक पर अंतिम मुहर लगाना चाहेंगे।
भारतीय टीम 24 फरवरी से शुरू होने वाली श्रृंखला में दो टी20 अंतरराष्ट्रीय और पांच वनडे खेलेगी। यह 30 मई से इंग्लैंड में शुरू होने वाले विश्व कप से पहले भारतीय टीम की आखिरी श्रृंखला होगी। आस्ट्रेलिया के खिलाफ श्रृंखला से पता चलेगा कि ऋषभ पंत और दिनेश कार्तिक में से कौन खिलाड़ी विशेषज्ञ बल्लेबाज और दूसरे विकेटकीपर के रूप में इंग्लैंड जाएगा। केएल राहुल भी भारत ए की तरफ से इंग्लैंड लायन्स के खिलाफ दो अच्छी पारियां खेलने के बाद तीसरे सलामी बल्लेबाज के स्थान के लिये दौड़ में शामिल हो गये हैं। वनडे श्रृंखला से पहले दो टी20 मैच होंगे जिनमें उप कप्तान रोहित शर्मा को विश्राम दिया जा सकता है ताकि वह वनडे के लिये तरोताजा होकर उतर सकें। चयनकर्ताओं ने विश्व कप के लिये 13 खिलाडिय़ों की पहचान कर ली है। कप्तान कोहली और तेज गेंदबाजी के अगुआ बुमराह अंतिम ड्रेस रिहर्सल के लिये वापसी करेंगे। चयनकर्ताओं के 16 या 17 खिलाडिय़ों के ही चयन करने की उम्मीद है। अंतिम दो स्थानों के लिये कम से कम चार दावेदार मैदान में है और यह इस पर निर्भर करता है कि टीम प्रबंधन किस तरह का संयोजन चाहता है। तेज गेंदबाजी विभाग में बुमराह, शमी और भुवनेश्वर का होना तय है ऐसे में विविधता प्रदान करने के लिये चयनकर्ता टीम में बायें हाथ के सीमर को रखना चाहेंगे। राजस्थान के युवा तेज गेंदबाज खलील आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में खेले थे और वह अच्छी दिशा में आगे बढ़ रहा है। उनादकट रणजी ट्राफी में अच्छा प्रदर्शन करने के बाद फिर से दौड़ में शामिल हो गये हैं। उनकी अगुवाई में सौराष्ट्र रणजी फाइनल में पहुंचा था। उनादकट परिपक्व गेंदबाज है। वह अब पहले से अधिक विविधतापूर्ण और तेज गेंदबाज हैं। आईपीएल को ध्यान में रखें तो वह सबसे अनुभवी गेंदबाज भी हैं। पंत और कार्तिक में से किसी एक का चयन करने के लिये चयनकर्ताओं को माथापच्ची करनी पड़ेगी। ये दोनों ही अच्छे फिनिशर है। पंत को तीसरे सलामी बल्लेबाज के रूप में भी रखा जा सकता है। राहुल भी इस स्थान के लिये दौड़ में हैं। उन्हें टीम प्रबंधन का समर्थन भी हासिल है। 

whatsapp mail