अब कॉम्बिनेशन नहीं मिल सकेंगे इस साल के प्लेऑफ में

img

नई दिल्ली
इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में गुरुवार को कोलकाता और राजस्थान के बीच हुए मैच से प्वाइंट टेबल की स्थिति में थोड़ी और सफाई आई। अब भी प्लेऑफ से पूरी तरह से बाहर होने वाली पहली टीम का नाम स्पष्ट नहीं हुआ है। फिलहाल सबका ध्यान इसी बात पर है कि प्वाइंट टेबल में कोलकाता, राजस्थान और बेंगलुरू 11 मैचों में 8 अंकों के साथ बराबारी पर हैं, उनके बीच में केवल नेट रनरेट का ही अंतर बचा है। अभी कुछ प्लेऑफ के कुछ काम्बिनेश्स ऐसे हैं जो इस सीजन में नामुमकिन हैं।

नीचे की टीमों का अलग है गणित
सबसे पहले नीचे की टीमें एक साथ प्लेऑफ में आ जाएं यह लगभग नामुमकिन हो गया है। पहले इसे ही समझा जाए। नीचे की तीनों टीमों को प्लेऑफ में पहुंचने के लिए अपने तीनों मैच हर हाल में जीतने ही होंगे, लेकिन यह नामुमकिन है। नीचे की दो टीमें, राजस्थान और बेंगलुरू के बीच होने वाला मैच दोनों में से एक टीम को प्लेऑफ की दौड़ से पूरी तरह से बाहर कर देगा। लेकिन उससे पहले तक दोनों को ही अपने इकलौते मैच जीतने होंगे।  

आखिरी दो में से केवल एक ही क्यों
इससे हमें एक काम्बिनेशन तो मिल ही जाता है कि इस सीजन में बेंगलुरू और राजस्थान एक साथ इस साल प्लेऑफ में बिलकुल नहीं दिखेंगे। अब देखते हैं कि इन टीमों का कोलकाता के साथ क्या कोई काम्बिनेशन बन सकता है। प्लेऑफ में टीमों के बीच अब केवल तीन स्थानों के लिए मुकाबला है, फिलहाल दूसरे नंबर पर दिल्ली, 14 अंकों के साथ है जिसके तीन मैच बाकी हैं। तीसरे और चौथे स्थान पर 10 मैच खेल चुकीं मुबई (12 अंक) और हैदराबाद (10 अंक) हैं पांचवे स्थान पर पंजाब 11 मैचों में दस अंक के साथ काबिज है। 

whatsapp mail