किंग्स इलेवन पंजाब को 17 रन से हराकर आरसीबी ने लगातार तीसरा मैच जीता

img

बेंगलुरू
एबी डिविलियर्स के आतिशी अर्धशतक और मार्कस स्टोइनिस के साथ उनकी शतकीय साझेदारी के बाद 19वें ओवर में नवदीप सैनी की शानदार गेंदबाजी से रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूर ने बुधवार को इंडियन प्रीमियर लीग में यहां किंग्स इलेवन पंजाब को 17 रन से हराकर जीत की हैट्रिक बनाई। आरसीबी ने डिविलियर्स की 44 गेंद में सात छक्कों और तीन चौकों की मदद से नाबाद 82 रन की पारी और स्टोइनिस (नाबाद 46) के साथ पांचवें विकेट के लिए 121 रन की अटूट साझेदारी से विषम परिस्थितियों से उबरते हुए चार विकेट पर 202 रन बनाए। सलामी बल्लेबाज पार्थिव पटेल ने भी 43 रन की पारी खेली। स्टोइनिस ने 34 गेंद का सामना करते हुए तीन छक्के और दो चौके मारे। डिविलियर्स और स्टोइनिस की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी से आरसीबी की टीम अंतिम सात ओवर में 103 रन जुटाने में सफल रही। इस जीत से आरसीबी के 11 मैचों में चार जीत से आठ अंक हो गए हैं और उसे प्ले आफ में जगह बनाने की उम्मीदों को जीवंत रखा है। टीम हालांकि अब भी सातवें स्थान पर है। किंग्स इलेवन पंजाब के 11 मैचों में पांच जीत से 10 अंक हैं और वह पांचवें स्थान पर है। लक्ष्य का पीछा करने उतरी पंजाब की टीम ने तेज शुरुआत की। क्रिस गेल (23) ने टिम साउथी के पहले ओवर में ही तीन चौके जड़े जबकि राहुल ने उमेश का स्वागत लगातार दो चौकों से किया और फिर नवदीप सैनी पर भी लगातार दो चौके मारे। गेल ने उमेश पर एक और छक्का जड़ा लेकिन अगली गेंद पर यह शाट दोहराने की कोशिश में बाउंड्री पर डिविलियर्स को कैच दे बैठे। अग्रवाल ने साउथी पर लगातार दो चौकों के साथ पांचवें ओवर में टीम के रनों का अर्धशतक पूरा किया जबकि राहुल ने युजवेंद्र चहल की लगातार गेंदों पर छक्का और चौका मारा जिससे टीम ने पावर प्ले में एक विकेट पर 68 रन बनाए। अग्रवाल ने चहल छक्के और चौके के साथ नौवें ओवर में टीम का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया। वह हालांकि स्टोइनिस के अगले ओवर में मिडविकेट पर चहल को आसान कैच दे बैठे जिससे राहुल के साथ उनकी 59 रन की साझेदारी का अंत हुआ। उन्होंने 21 गेंद का सामना करते हुए पांच चौके और एक छक्का मारा। कप्तान कोहली ने इसके बाद गेंद मोईन अली को थमाई और उनकी पहली ही गेंद पर राहुल लांग आफ पर साउथी को आसान कैच दे बैठे। उन्होंने 27 गेंद की अपनी पारी में सात चौके और एक छक्का मारा। डेविड मिलर और निकोलस पूरण ने इसके बाद पारी को आगे बढ़ाया। पूरण ने आफ स्पिनर वाशिंगटन सुंदर के ओवर में तीन छक्के मारे। किंग्स इलेवन पंजाब को अंतिम पांच ओवर में जीत के लिए 60 रन चाहिए थे। पूरण ने मोईन पर दो छक्के मारे जबकि मिलर ने साउथी पर लगातार दो चौकों के साथ रन और गेंद के बीच के अंतर को कम किया। पूरण हालांकि 44 रन के स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब उमेश की गेंद पर स्टोइनिस ने उनका कैच छोड़ दिया। पंजाब की टीम को अंतिम दो ओवर में 30 रन की दरकार थी। डिविलियर्स ने इसके बाद सैनी की गेंद पर लांग आफ में मिलर का शानदार कैच लपककर 68 रन की साझेदारी का अंत किया। मिलर ने 25 गेंद में दो चौकों से 24 रन बनाए। पूरण भी इसी ओवर की अंतिम गेंद पर डिविलियर्स को कैच दे बैठे। उन्होंने 28 गेंद का सामना करते हुए पांच छक्के और एक चौका मारा। सैनी के इस ओवर में सिर्फ तीन रन बने। पंजाब की टीम को अब अंतिम ओवर में 27 रन की जरूरत थी लेकिन उमेश के इस ओवर में सिर्फ नौ रन बने और आर अश्विन (06) और हार्डस विलोएन (00) के विकेट गिरे। इससे पहले किंग्स इलेवन पंजाब के कप्तान आर अश्विन ने टास जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया जिसके बाद पार्थिव ने आरसीबी को तेज शुरुआत दिलाई। पार्थिव ने अंकित राजपूत के पहले ओवर में दो चौकों के साथ शुरुआत की लेकिन कप्तान विराट कोहली (13) तीन रन के निजी स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब मोहम्मद शमी (53 रन पर एक विकेट) की गेंद पर हार्डस विलोएन ने उनका कैच टपका दिया। कोहली ने शमी पर लगातार दो चौके मारे लेकिन इस तेज गेंदबाज के अगले ओवर में कवर्स में मनदीप सिंह को आसान कैच दे बैठे। पार्थिव ने राजपूत पर छक्के के साथ पांचवें ओवर में टीम के रनों का अर्धशतक पूरा किया और फिर शमी के अगले ओवर में तीन चौके और एक छक्का मारा जिससे टीम पावरप्ले में एक विकेट पर 70 रन बनाने में सफल रही। पार्थिव हालांकि इसके बाद एम अश्विन (31 रन पर एक विकेट) की गेंद पर आर अश्विन को आसान कैच दे बैठे। उन्होंने 24 गेंद की अपनी पारी में सात चौके और दो छक्के मारे। मोईन अली (04) भी इसके बाद आर अश्विन (15 रन पर एक विकेट) की सीधी गेंद को चूककर बोल्ड हो गए जबकि विलोएन (51 रन पर एक विकेट) ने अक्षदीप नाथ (03) को पवेलियन भेजा जिससे टीम का स्कोर एक विकेट पर 71 रन से चार विकेट पर 81 रन हो गया।
पावर प्ले के बाद अगले सात ओवर में टीम 29 रन ही जोड़ सकी। एबी डिविलियर्स ने इस बीच एक छोर संभाले रखा। उन्होंने एम अश्विन पर एक रन के साथ 14वें ओवर में टीम का स्कोर 100 रन तक पहुंचाया। मार्कस स्टोइनिस ने एम अश्विन पर छक्के के साथ 43 गेंद के बाउंड्री के सूखे को खत्म किया। डिविलियर्स ने आक्रामक तेवर दिखाते हुए राजपूत की लगातार गेंदों पर चौका और छक्का जड़ा जबकि एम अश्विन की गेंद को भी दर्शकों के बीच पहुंचाया। डिविलियर्स ने विलोएन की लगातार गेंद पर चौके और छक्के के साथ 35 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। उन्होंने 19वें ओवर में शमी पर लगातार तीन छक्कों से 21 रन जुटाए। विलोएन के पारी के अंतिम ओवर की पहली गेंद पर भी डिविलियर्स ने छक्का जड़ा जबकि अंतिम चार गेंद पर स्टोइनिस ने दो छक्के और दो चौके मारे जिससे इस ओवर में 27 रन बने।

whatsapp mail