सहारा ने स्टेट-ऑफ-द-आर्ट क्रिकेट एकेडमी लॉन्च की

img

लखनऊ
सहारा इंडिया परिवार, विशाल भारतीय व्यवसाय दिग्गज व भारत में खेलों के सबसे बड़े संरक्षक ने लखनऊ में अपनी तरह की सर्वप्रथम हाईटेक क्रिकेट एकेडमी जो कि स्टेट-ऑफ-द-आर्ट सुविधाओं से युक्त है, का उद्घाटन किया। सहाराश्री सुब्रत रॉय सहारा ने आधिकारिक रूप से एकेडमी का उत्साहित प्रशिक्षार्थियों व उनके माता-पिता तथा इस सुविधा के अन्य स्टेकहोल्डर्स के समक्ष उद्घाटन किया। यह एकेडमी नई पीढ़ी के इन लड़कों और लड़कियों को विश्व स्तरीय प्रशिक्षण देगी जो क्रिकेट में उत्कृष्टता का लक्ष्य रखते हैं। यहां सब-जूनियर (9 से 12 वर्ष), जूनियर (13 से 15 वर्ष) तथा सीनियर (16 से 23 वर्ष) की श्रेणियां होंगी। जिन्हें कपिल देव जो कि चीफ मेंटर होंगे, और अन्य वर्तमान व पूर्व दिग्गज खिलाड़ियों जैसे कि सुरेश रैना, बलविंदर सिंह सन्धू, आरपी सिंह, के साथ-साथ अनुभवी राज्य स्तरीय खिलाड़ियों तथा लेवल 1 व लेवल 2 के जाने-माने क्रिकेट कोचों द्वारा मार्गदर्शन व प्रशिक्षण दिया जाएगा।
इस अवसर पर ‘सहाराश्री’ सुब्रत रॉय सहारा, मैनेजिंग वर्कर व चेयरमैन, सहारा इंडिया परिवार, ने कहा, खेल समाज का सर्वाधिक उळर्जापूर्ण, स्वस्थ व जोशीले रूप से प्रतिनिधित्व करते हैं। अपनी शुरूआत से ही सहारा इंडिया परिवार ने इन गतिविधियों को प्राथ्मिकता दी है जो कि मानव में सकारात्मक भावनाओं का सृजन करती हैं। खेल इनमें से एक है। हमारे देश में प्रतिभाओं की कमी नहीं है। आवश्यकता है इसकी संभावनाओं को पोषित करने की ताकि राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तरों पर विजयी हुआ जा सके। मुझे खुशी है कि यह एकेडमी इन उभरते व महत्वाकांक्षी क्रिकेटरों को समुचित प्रशिक्षण व मार्गदर्शन उप्लब्ध करवाएगी और उन्हें नये क्रिकेटिंग सुपरस्टार बनाएगी। आल राउंड प्रशिक्षण देने के लिए एकेडमी में 14 पिचें हैं ताकि प्रशिक्षार्थियों को विभिन्न पिच परिस्थितियों पर पै्रक्टिस मिल पाए। यहां 2 पूरी तरह कवर्ड व बॉक्स नेट युक्त इंडोर एस्ट्रो टर्फ़, 3 सेंटर टर्फ़ पिंचे, 7 टर्फ़ व 2 सीमेंट वाली प्रैक्टिस पिचें हैं। यहां इस बात का विशेष ध्यान दिया गया है कि प्रशिक्षण साल के 365 दिन निर्विध्न चले और मौसम के बदलावों से प्रभावित न हो। इस एकेडमी में सिटिंग गैलरी युक्त पैवेलियन, इमर्जेन्सी केस के लिए इन्फर्मरी जहां फिजियोथेरेपिस्ट, फर्स्ट एड व एम्बुलेंस उप्लब्ध होंगे। साथ ही ऑडियो विजुअल युक्त कॉन्फ्रेंस रूम, बॉलिंग मशीन व स्पीड गन होंगे ताकि वास्तविक खेल के मैदान की करीबी नकल तैयार की जा सके। कोच को प्रोग्रेस रिपोर्ट में सहायता हेतु वीडियो व टेक्निकल एनॉलिसिस सुविधाएं, प्रैक्टिस मैच और ऑल इंडिया टूर्नामेंट आदि भी होंगे। यह कैम्पस 24 घंटे सुरक्षा घेरे में है ताकि बाहरी तत्वों के खतरे का भय न रहे। भविष्य में एकेडमी में फ्लड लाइट सुविधा, चुनिंदा क्रिकेटिंग प्रतिभाओं के लिए छात्रवृत्ति व प्रशिक्षार्थियों को देश-विदेश में दौरों पर ले जाने की सुविधाएं भी होगी ताकि खिलाड़ी विश्व की विभिन्न क्रिकेटिंग परिस्थितियों के अनुकूल खेल सकें।

whatsapp mail