विंडीज एंब्रोस का बयान, 'स्मिथ और वार्नर पर दो साल का प्रतिबंध लगना चाहिए था'

img

मेलबर्न
वेस्टइंडीज के अपने जमाने के दिग्गज तेज गेंदबाज कर्टली एंब्रोस का मानना है कि आस्ट्रेलियाई स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर जघन्य अपराध करके भी बच गये और उन पर गेंद से छेड़छाड़ के मामले में दो साल का प्रतिबंध लगना चाहिए था। पूर्व कप्तान स्मिथ और उनके साथ उप कप्तान रहे वार्नर पर क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने पिछले साल मार्च में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ केपटाउन में तीसरे टेस्ट मैच के दौरान गेंद से छेड़छाड़ में भूमिका के लिये एक साल का प्रतिबंध लगाया था। इन दोनों पर लगा प्रतिबंध इस साल मार्च में समाप्त हो गया और वे अब इंडियन प्रीमियर लीग में खेल रहे हैं। स्मिथ और वार्नर विश्व कप और एशेज दौरे के लिये आस्ट्रेलियाई टीम में वापसी करने की कवायद में लगे हैं, लेकिन एंब्रोस का मानना है कि उन्हें एक और साल के लिये प्रतिबंधित किया जाना चाहिए था।टेस्ट क्रिकेट में 400 से अधिक विकेट लेने वाले 15 गेंदबाजों में से एक एंब्रोस ने फाक्स स्पोर्ट्स से कहा, ''जब आप इस तरह से नियमों को तोड़ते हो तो उसके लिये आपको कड़ी सजा मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा, ''ईमानदारी से कहूं तो वे जघन्य अपराध करके भी बच गये। एक साल का प्रतिबंध थोड़ा कम है। मेरा मानना है कि दो साल का प्रतिबंध लगाने से कड़ा संदेश जाता क्योंकि यह वास्तव में बेवकूफाना हरकत थी। एंटीगा के इस 55 वर्षीय क्रिकेटर को हालांकि उम्मीद है कि ये दोनों विश्व कप के लिये आस्ट्रेलियाई टीम में जगह बनाने में सफल रहेंगे। उन्होंने कहा, ''विश्वास है कि वे फिर से कभी ऐसा नहीं करेंगे। मैं बस उम्मीद करता हूं कि सभी आस्ट्रेलियाई उनका समर्थन करेंगे। उम्मीद है कि उन्हें विश्व कप टीम में चुना जाएगा क्योंकि उनकी उपस्थिति से टीम मजबूत बनेगी।

whatsapp mail