कंगारुओं पर दहाड़ी टीम इंडिया, कप्तान कोहली ने भरी हुंकार

img

खेल डेस्क
भारतीय कप्तान विराट कोहली को टीम के गेंदबाजों से कोई समस्या नहीं है लेकिन वह चाहते हैं कि अगले महीने जब टीम आस्ट्रेलिया का दौरा करेगी तो उसके बल्लेबाज अपनी घरेलू फॉर्म को जारी रखेंगे। गेंदबाजों ने पिछले कुछ समय से भारत के लिए घरेलू और विदेशी मैदान पर शानदार प्रदर्शन किया है, लेकिन बल्लेबाजों ने बार बार टीम को निराश किया है। कोहली ने कहा कि वेस्टइंडीज को सीरीज में 2-0 से हराने के बाद बल्लेबाजों को भी गेंदबाजों की तरह अच्छे प्रदर्शन को जारी रखना चाहिए। कोहली ने मैच के बाद पुरस्कार वितरण समारोह में कहा, मैं इन खिलाडिय़ों को फिट और अच्छा खेल दिखाने के लिए बेताब देखकर सचमुच खुश हूं। अब बाकी का काम करना बल्लेबाजों पर निर्भर करता है। इस मैच में पहली पारी राजकोट में पिछली पारी से ज्यादा चुनौतीपूर्ण थी। दूसरे टेस्ट में वेस्टइंडीज के जेसन होल्डर और शैनोन गैब्रियल के आक्रमण के सामने भारतीय टीम पहली पारी में थोड़ी दबाव में आ गयी लेकिन ऋषभ पंत और अजिंक्य रहाणे ने 152 रन की भागीदारी निभाकर टीम को संभाला। कोहली ने कहा, जिंक्स (अजिंक्य रहाणे) बहुत अच्छी बल्लेबाजी कर रहा है, उसने नाटिघंम में भी रन बनाये और हमने वो टेस्ट जीता। वह कुछ रन बनाना चाहता था। पंत के साथ उसकी साझेदारी शानदार रही और हम इसी तरह की कुछ और साझेदारियां देखना चाहेंगे। कप्तान ने उमेश यादव की तारीफों के पुल बांधे जो घरेलू मैदान पर टेस्ट में 10 विकेट लेने वाले भारत के तीसरे तेज गेंदबाज बन गये हैं। आस्ट्रेलियाई सीरीज से पहले उसने चयनकर्ताओं के सामने मुश्किल बढ़ा दी हैं।
 

whatsapp mail