विदेशी खिलाडिय़ों के बिना ही मैदान में उतरेगी राजस्थान रॉयल्स और सनराइजर्स हैदराबाद की टीम

img

जयपुर
राजस्थान रॉयल्स और सनराइजर्स हैदराबाद शनिवार को यहां होने वाले इंडियन प्रीमियर लीग मुकाबले में अपने अहम विदेशी खिलाडिय़ों के बिना ही एक दूसरे के खिलाफ मैदान में उतरेगी। इस समय राजस्थान की टीम सनराइजर्स हैदराबाद की तुलना में ज्यादा प्रभावित है क्योंकि उसके पास बेन स्टोक्स, जोस बटलर और जोफ्रा आर्चर नहीं है जो विश्व कप शिविर से जुडऩे से लिये इंग्लैंड रवाना हो चुके हैं। हैदराबाद को निश्चित रूप से अपने विस्फोटकीय सलामी बल्लेबाज और इंग्लैंड के जॉनी बेयरस्टो की सेवाओं की कमी खलेगी जो डेविड वार्नर के साथ मिलकर मजबूत सलामी जोड़ी बनाते हैं। दोनों टीमों के लिये चीजें कठिन हो जायेंगी जब आस्ट्रेलियाई खिलाड़ी वार्नर और रॉयल्स के कप्तान स्टीव स्मिथ अगले हफ्ते स्वदेश रवाना हो जायेंगे। तालिका में हैदराबाद की टीम 10 में से पांच मैच जीतकर बेहतर स्थान पर है जबकि राजस्थान ने 11 में से केवल चार ही मैच जीते हैं। लेकिन ये भी प्ले आफ स्थान की दौड़ में बनी हुई हैं। ऑल राउंडर आर्चर ने गुरूवार को राजस्थान को केकेआर पर रोमांचक जीत दिलायी थी और उनकी काफी कमी महसूस होगी। इंग्लैंड के तीनों खिलाडिय़ों के जाने से राजस्थान को काफी कमी खलेगी लेकिन अजिंक्य रहाणे और स्मिथ की फार्म उसके लिये सकारात्मक संकेत है। राजस्थान के लिये इस बार की खोज असम का 17 साल का खिलाड़ी रियान पराग रहा है जिसने बल्ले और गेंद से बेहतरीन प्रतिभा दिखायी है। उसने केकेआर के खिलाफ 31 गेंद में 47 रन बनाये और राजस्थान को मुश्किल स्थिति से जीत की ओर पहुंचा दिया। संजू सैमसन भी अच्छी फार्म में हैं और राहुल त्रिपाठी ने भी सलामी बल्लेबाज के स्थान पर अर्धशतक जड़ा। एशटन टर्नर और लियान लिविंगस्टोन खुद को साबित नहीं कर सके हैं और इन्हें अपने खेल में सुधार करना होगा। मेजबानों के लिये गेंदबाजी सबसे बड़ी चिंता होगी क्योंकि डेथ ओवरों में आर्चर सबसे प्रभावी गेंदबाज थे। हालांकि वरूण आरोन भी केकेआर के खिलाफ प्रभावी दिखे जिन्होंने 20 रन देकर दो विकेट चटकाये और मैन आफ द मैच पुरस्कार उनके आत्मविश्वास को बढ़ाया। ओशाने थामस का प्रदर्शन भी ठीक रहा। मेजबान टीम धवल कुलकर्णी और जयदेव उनादकट से उम्मीद करेगी कि वे प्रतिद्वंद्वी टीम की लगाम कसे रहें। हैदराबाद की टीम विदेशी खिलाडिय़ों की अनुपस्थिति से काफी असर पड़ेगा लेकिन उन्हें इनकी जगह खिलाडिय़ों को उतारने में थोड़ा स्मार्ट होना होगा। वॉर्नर 29 अप्रैल को सत्र का अपना अंतिम मैच खेलेंगे, उनकी जगह मार्टिन गुप्टिल ले सकते हैं।

whatsapp mail