पटेल के फीफा परिषद का सदस्य बनने से भारत को काफी फायदा होगा : दत्ता

img

नई दिल्ली
अखिल भारतीय फुटबाल महासंघ के उपाध्यक्ष सुब्रत दत्ता ने मंगलवार को यहां कहा कि प्रफुल्ल पटेल के फीफा परिषद का सदस्य बनने के बाद भारत के लिए वैश्विक फुटबाल में संभावनाएं बढ़ेंगी। एआईएफएफ के अध्यक्ष अध्यक्ष प्रफुल्ल पटेल चार साल के लिए फीफा कार्यकारी समिति में चार साल (2019 से 2023) के लिएसदस्य बन सकते हैं। एशियाई फुटबाल परिसंघ की ओर से पांच सदस्यों को फीफा परिषद में शामिल किया जाएगा और पटेल को उम्मीद है इसके लिए मलेशिया के कुआलालंपुर में छह अप्रैल को एएफसी के 29वीं कांग्रेस के दौरान होने वाले चुनाव में उनका चयन हो जाएगा। इस चुनावी मैदान में आठ उम्मीदवार है जिसमें से पांच का चयन होगा। दत्ता ने पीटीआई से कहा, अगर पटेल फीफा परिषद के सदस्य बन जाते हैं, तो यह हमारे देश के लिए कई तरह से फायदेमंद सकता है। हमें कोलकाता के पास सेंटर ऑफ एक्सीलेंस की स्थापना करने के लिए अधिक तकनीकी और वित्तीय सहायता मिलेगी। हमें योग्य कोचों के विकास में और अपने स्वयं के बेहतर रेफरी को तैयार करने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा, भारत ने 2017 में फीफा अंडर-17 विश्व कप (पुरुषों) की मेजबानी की है और हम 2020 में महिलाओं के लिए फीफा अंडर-17 विश्व कप की मेजबानी कर रहे हैं। अगर पटेल फीफा परिषद के सदस्य बन जाते हैं, तो हमें अन्य बड़े आयोजनो की मेजबानी मिल सकती है।

whatsapp mail