लगातार दूसरी बार आईएसएल फाइनल में पहुंची बेंगलुरू एफसी

img

बेंगलुरू
कप्तान सुनील छेत्री की अगुवाई में बेंगलुरू एफसी ने 18 मिनट के अंदर तीन गोल करके सोमवार को यहां सेमीफाइनल के दूसरे चरण के मैच में नार्थईस्ट यूनाईटेड एफसी पर 3-0 से जीत दर्ज की और इस तरह से कुल 4-2 के अंतर से मुकाबला अपने नाम करके इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के फाइनल में जगह बनायी। नार्थईस्ट ने 72वें मिनट तक बेंगलुरू को गोलरहित बराबरी पर रोके रखा था लेकिन इसके बाद उसकी एक नहीं चली। बेंगलुरू के लिये मीकू ने 72वें मिनट में पहला गोल किया। डिमास डेलगादो ने 87वें मिनट में दूसरा जबकि छेत्री ने इसके तीन मिनट बाद तीसरा गोल करके अपनी टीम की फाइनल में जगह सुनिश्चित की। यह लगातार दूसरा अवसर है जबकि बेंगलुरू की टीम फाइनल में पहुंची है। पिछले साल चेन्नइयन एफसी से हारकर उसे उप विजेता बनकर संतोष करना पड़ा था। इस बार खिताब के लिये उसका मुकाबला एफसी गोवा और मुंबई सिटी एफसी के बीच मंगलवार को होने वाले सेमीफाइनल के विजेता से होगा। फाइनल 17 मार्च को खेला जाएगा। नार्थईस्ट एफसी ने गुवाहाटी में सेमीफाइनल के पहले चरण में 2-1 से जीत दर्ज की थी लेकिन बेंगलुरू ने अपने घरेलू मैदान श्री कांतीरावा स्टेडियम में फिर से बेहतरीन खेल दिखाया। मैच के पहले दस मिनट में दोनों टीमों ने अच्छी शुरूआत करते हए एक-एक मौके बनाए। बेंगलुरू के कप्तान सुनील छेत्री ने चौथे मिनट में बाएं फ्लैंक से गेंद को बॉक्स में भेज दिया था लेकिन वहां पर गेंद को जाली में डालने के लिए कोई भी खिलाड़ी मौजूद नहीं था। इसके चार मिनट बाद नार्थईस्ट के स्टार फेड्रेरिको गालेगो और दिमास डेल्गाडो की जुगलबंदी से गेंद जुआन मासिया के पास आई। यहां मासिया गेंद को सीधे गोलकीपर के हाथों में दे बैठे। पहले हाफ में दोनों टीमें गोल नहीं कर पाई थीं इसलिए दूसरे हाफ में दोनों टीमों में बेताबी देखने को मिली। बेंगलुरू के पास 51वें मिनट में गोल करने का अच्छा मौका था। यहां नीशू कुमार ने 25 गज से झन्नाटेदार किक लगाई जिसे नार्थईस्ट के गोलकीपर पवन कुमार ने अपने दाएं तरफ डाइव मारकर रोक लिया। मीकू आखिर में गोल करने में सफल रहे। हरमनजोत खाबरा ने बाएं छोर पर लंबा पास बॉक्स में सिसको हर्नाडेज को पास दिया। उन्होंने गेंद उदांता को दी जिन्होंने मीकू को पास दिया। मीकू ने एक टच में गेंद को नेट में डालकर बेंगलुरू को 1-0 से आगे कर दिया। नार्थईस्ट बराबरी की कोशिश में लगी थी लेकिन इस बीच आखिरी पलों में उसे एक और झटका लग गया। डेल्गाडो ने 87वें मिनट में गोल कर बेंगलुरू को 2-0 से आगे कर दिया। यह गोल जवाबी हमले पर हुआ। उदांता नार्थईस्ट के बॉक्स में से गेंद लेकर भागे और आगे बढ़ते हुए दाएं छोर से गेंद को नेट में डालना चाहा लेकिन गेंद बार से टकरा कर वापस आई और वहां खड़े दिमास ने उसे नेट में भेज बेंगलुरू की बढ़त को दोगुना कर दिया। रही सही कसर कप्तान छेत्री ने 90वें मिनट में आसान सा गोल कर पूरी कर दी।

whatsapp mail