सिलेक्शन में निरंतरता से प्लेयर्स को एक-दूसरे को समझने में मदद मिली: रानी

img

भुवनेश्वर
भारतीय महिला हॉकी टीम की कप्तान रानी ने कहा कि ओलिंपिक क्वॉलिफायर से पहले चयन में निरंतरता से उनकी टीम की सदस्यों को एक दूसरे को समझने में मदद मिली। उन्होंने कहा कि आगामी एफआईएच ओलिंपिक क्वॉलिफायर में जब उनकी टीम खेलेगी तो घरेलू समर्थन उनके लिए मनोबल बढ़ाने वाला होगा। शुक्रवार को मुख्य कोच शोर्ड मारिन ने 18 सदस्यीय महिला टीम की घोषणा की जिसमें उन्होंने इस महीने के शुरू में इंग्लैंड के अभ्यास दौरे पर देश का प्रतिनिधित्व करने वाली खिलाडिय़ों को बरकरार रखा। रानी ने कहा, 'खिलाडिय़ों का हमारा ग्रुप काफी समय से एक दूसरे के साथ खेल रहा है और इससे निश्चित रूप से सभी टीम सदस्यों को अच्छी तरह से समझने में मदद मिली। हम एक दूसरे को मैदान के अंदर-बाहर अच्छी तरह जानते हैं, इससे हमें काफी मदद मिली। हम यहां क्वॉलिफायर में अमेरिका से भिडऩे को अपना सर्वश्रेष्ठ देने के लिए तैयारी कररहे हैं।

whatsapp mail