हॉकी विश्व कप : बड़ी जीत के साथ सीधे क्वार्टरफाइनल का टिकट कटाना चाहेगा भारत 

img

खेल डेस्क
मनप्रीत सिंह की अगुआई वाली भारतीय हॉकी टीम शनिवार को जब विश्वकप में पूल सी के अपने आखिरी मुकाबले कनाडा के खिलाफ मैदान में उतरेगी तो उसका लक्ष्य बड़ी जीत के साथ सीधे क्वार्टर फाइनल का टिकट कटाने का होगा। भारत और बेल्जियम के दो मैचों से एक समान चार- चार अंक हैं लेकिन बेहतर गोल अंतर के आधार पर भारतीय टीम शीर्ष पर है, जोकि भारत के हक में है। यही नहीं मैदान पर उतरने से पहले ही भारतीय टीम के लिए तस्वीर और लक्ष्य साफ होगा। उसे मालूम होगा कि कनाडा के खिलाफ उसे कितने गोल के अंतर से जीतना है। युवा स्ट्राइकर सिमरनजीत सिंह, दिलप्रीत सिंह और मनदीप सिंह के साथ लिंकमैन हार्दिक सिंह और नीलकांत शर्मा ने बेल्जियम के खिलाफ पिछडऩे के बाद टीम को बराबरी दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी। भारतीय गोलरक्षक पीआर श्रीजेश पिता के ऑपरेशन के बाद टीम से जुड़ गए हैं। उन्होंने साथी कृष्ण बहादुर पाठक और सूरज करकेरा के साथ जमकर पसीना बहाया। श्रीजेश कनाडा के खिलाफ पूरी मुस्तैदी से उसके सुखी पनेसर और मार्क पियरसन सरीखे स्ट्राइकरों के हमलों को नाकाम करने की पूरी कोशिश करेंगे। कनाडा के कोच पॉल बंडी और कप्तान स्कॉट टपर ने कहा कि भारत रैंकिंग में उससे छह पायदान ऊपर है और अपने घर में खेलने के चलते उसपर दबाव होगा। पर हकीकत में दबाव अभी तक एक भी मैच नहीं जीतने वाली कनाडा पर ही होगा। भारत की टीम पूरी तरह फिट है।

whatsapp mail