जापान को 3-1 से हराकर भारत ने जीता एफआईएच वीमेंस सीरीज

img

हिरोशिमा
भारतीय महिला हॉकी टीम ने गुरजीत कौर के दो गोलों की मदद से रविवार को जापान के हिरोशिमा शहर में खेले गए एफआईएच वीमेंस सीरीज के फाइनल मुकाबले में मेजबान टीम को 3-1 से हराकर खिताब पर कब्जा जमाया। भारतीय टीम की कमान रानी रामपाल के हाथों में थी। भारत ने जापान पर तीसरे मिनट में ही बढ़त बना ली थी। पहले मिनट से ही भारतीय महिला हॉकी टीम ने आक्रामक हॉकी का प्रदर्शन किया। इसका नतीजा यह हुआ कि भारत को तीसरे मिनट में पेनाल्टी कार्नर मिला। इस पर कप्तान रानी रामपाल ने गोल कर भारत को 1-0 की बढ़त दिला दी। लेकिन यह बढ़त ज्यादा देर तक नहीं रही। पहले क्वार्टर के 11वें मिनट में जापान ने पलटवार किया और केनॉन मोरी ने शानदार मैदानी गोल कर जापान को 1-1 की बराबरी दिला दी। इसके बाद दूसरे क्वार्टर में कोई गोल नहीं हुआ। इस तरह पहले हाफ का मुकाबला 1-1 की बराबरी पर समाप्त हुआ। इसके बाद तीसरे क्वार्टर में भी दोनों टीमें बराबरी पर जा रही थीं कि तीसरे क्वार्टर के अंतिम मिनट में गुरजीत कौर ने एक शानदार ड्रैग फ्लिक से गोल करते हुए भारत को 2-1 बढ़त दिला दी। इसी बढ़त के साथ दोनों टीमें चौथे और अंतिम क्वार्टर में खेलने उतरीं। इस क्वार्टर में जापान ने काफी आक्रामक हॉकी खेली। इस वजह से उसने गोल करने के कई मौके बनाए, लेकिन वह उन्हें भुना नहीं पाई। इस बीच मैच के अंतिम मिनट में भारत को पेनाल्टी कारण मिला। इस पर गुरजीत ने एक और गोल कर भारत की जीत सुनिश्चित कर दी। इस तरह भारत ने जापान को 3-1 से हराकर खिताब पर कब्जा जमा लिया।

whatsapp mail