शाह कप हॉकी टूर्नामेंट में मलेशिया को कड़ी टक्कर देगा भारत

img

इपोह
अंतिम लम्हों में गोल खाने की समस्या का हल निकालने में नाकाम रहा भारत मंगलवार को यहां मलेशिया के खिलाफ होने वाले अजलन शाह कप हॉकी टूर्नामेंट के अपने तीसरे लीग मैच में इसी चीज से बचने की कोशिश करेगा। टूर्नामेंट के पहले मैच में एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता जापान के खिलाफ 2-0 की जीत के बाद मनप्रीत सिंह और उनके साथियों ने कोरिया के खिलाफ रविवार को अंतिम मिनट में गोल गंवाया और टीम को 1-1 के ड्रा से संतोष करना पड़ा। एक जीत और एक ड्रा के साथ भारतीय टीम चार अंक के जुटाकर छह टीमों की तालिका में तीसरे स्थान पर चल रही है। पोलैंड और जापान पर क्रमश: 5-1 और 4-3 की जीत के साथ मलेशिया की टीम अधिकतम छह अंक जुटाकर शीर्ष पर है। कोरिया की टीम दूसरे स्थान पर है। टीम के भारत के बराबर चार अंक हैं लेकिन बेहतर गोल अंतर के कारण कोरिया आगे है। रविवार को भारत लगातार दूसरी जीत की ओर बढ़ रहा था लेकिन कोरिया ने अंतिम लम्हों में बराबरी का गोल दाग दिया। भारत ने 28वें मिनट में मनदीप सिंह के गोल की बदौलत बढ़त बनाई और टीम छह देशों के टूर्नामेंट में लगातार दूसरी जीत की ओर बढ़ रही थी लेकिन खेल खत्म होने से 22 सेकेंड पहले डिफेंस की गलती के कारण जोंगह्युन जेंग ने कोरिया को बराबरी दिला दी। भारतीय टीम मलेशिया के खिलाफ इस तरह की गलती को दोहराने से बचने की कोशिश करेगी जो पिछले कुछ समय में मनप्रीत सिंह की अगुआई वाली टीम की कमजोरियों का फायदा उठाने में सफल रही है। एशियाई हाकी की छुपा रुस्तम मानी जाने वाली मलेशिया की टीम अपनी क्षमता से महाद्वीपीय स्तर पर बड़ी टीमों को लगातार उलटफेर का शिकार बनाती रही हैं। मलेशिया ने 2010 ग्वांग्झू एशियाई खेलों के सेमीफाइनल में भारत को अंतिम मिनट में गोल दागकर 4-3 से हराया। इसके आठ साल बाद जकार्ता एशियाई खेलों के सेमीफाइनल में भी भारत ने अंतिम मिनट में गोल गंवाकर मलेशिया को बराबरी हासिल करने का मौका दिया जिसने बाद में पेनल्टी शूटआउट में 7-6 से जीत दर्ज की। इस बीच अन्य मैचों में जापान का सामना कनाडा से होगा जबकि दक्षिण अफ्रीका को कोरिया का सामना करना है।

whatsapp mail