बड़ा कारनामा करने वाले एलिस्टर कुक इतिहास के सिर्फ दूसरे बल्लेबाज बने

img

केनिंगटन ओवल
इंग्लैंड के महानतम बल्लेबाज एलिस्टर कुक अपने करियर की आखिरी पारी खेल रहे हैं। आखिरी टेस्ट आते-आते कुक ने फॉर्म को पकड़ा ही नहीं, बल्कि बहुत ही शानदार अंदाज में पकड़ा। पहली पारी में 71 रन बनाने वाले पूर्व कप्तान ने पांचवें टेस्ट की दूसरी पारी में भी भारतीयों को दूसरी पारी में भी बुरी तरह पका कर ररख दिया। बहहरहाल, जारी टेस्ट की दूसरी पारी में जड़े पचासे के साथ ही एलिस्टर कुक ने वह बड़ा कारनामा कर दिखाया, जो उनसे पहले क्रिकेट इतिहास में सिर्फ और सिर्फ एक ही बल्लेबाज कर सका है। 
पहली पारी में अर्धशतक जडऩे वाले कुक अपने करियर की आखिरी टेस्ट पारी में अपना 33वां शतक पूरा कर लिया। लेकिन शतक पूरा होने से पहले ही कुक ने वह कारनामा कर दिखाया जो उनसे पहले केवल एक ही बल्लेबाज कर सका है। जारी टेस्ट मैच से पहले पिछले चार मैचों में कुक संघर्षरत ही दिखाई पड़े। लेकिन करियर का आखिरी टेस्ट मैच होना उनके लिए बड़ा मोटीवेशन साबित हुआ। रन बनाने की भूख और विकेट पर टिकने की द्रढ़ता ठीक वैसी ही, जिसके लिए कुक जाने जाते रहे हैं। कुक पहले ही इस बात का ऐलान कर चुके हैं कि वह संन्यास लेने के बाद से कमेंट्री करेंगे। और उनकी मंशा भांपते ही कई चैनल उनके लिए कतार में हैं। मुद्दे की बात यानी रिकॉर्ड पर लौटते हैं। दरअसल एलिस्टर कुक के जिस रिकॉर्ड के बारे में हम बताने जा रहे हैं, उसमें उन्होंने शतक जडऩे के साथ ही एक और नया मुकाम जोड़ दिया। लेकिन आप उससे पहले इस रिकॉर्ड स्पेशल के बार में जान लीजिए, जिसे क्रिकेट इतिहास में सिर्फ दो ही बल्लेबाज अपने खाते में जमा कर चुके हैं।

whatsapp mail