भारत को विश्व प्रतियोगिता की मेजबानी नहीं देने के मसले में आईओसी से बात करेगा आईओए

img

नई दिल्ली
भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) 22 दिसंबर को अपनी सालाना आम बैठक (जीबीएम) में अपनी मूल संस्था आईओसी के भारत को किसी विश्व प्रतियोगिता की मेजबानी नहीं देने के फैसले के बारे में चर्चा करेगा। ऐसा कोसोवो की मुक्केबाज को वीजा नहीं देने के मामले से उठे विवाद के बाद किया गया। अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति ने अपने सभी सदस्य महासंघों को कोसोवो मामले के कारण अपनी किसी विश्व प्रतियोगिता को भारत को नहीं सौंपने के लिये कहा है। भारत ने पिछले महीने यहां आयोजित एआईबीए महिला विश्व चैम्पियनशिप के लिए इस यूरोपीय देश की मुक्केबाज को वीजा देने से इनकार कर दिया था। भारत सरकार ने कोसोवो की एकमात्र मुक्केबाज दोनजेता सादिकू को वीजा देने से इनकार कर दिया क्योंकि वह यूरोपीय देश को मान्यता नहीं देता, जिस कारण यह देश मुक्केबाजी प्रतियोगिता में भाग नहीं ले सका। आईओसी ने अपने सभी अंतरराष्ट्रीय महासंघों को कहा है कि वे किसी विश्व प्रतियोगिता का आयोजन देश को देने से पहले कोसोवो की भागीदारी के संबंध में भारतीय अधिकारियों से लिखित में आश्वासन ले लें।बैठक में कई मामलों पर चर्चा की जाएगी, जिसमें एक एजेंडा, अंतरराष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताओं में खिलाडिय़ों और दलों की भागीदारी के लिए आईओसी के 19 नवंबर 2018 पत्र का स्वायत्ता और गैर भेदभाव सिद्धांत होगा। 

whatsapp mail