स्वप्ना और मिश्रित रिले टीम ने एथलेटिक्स चैंपियनशिप में रजत पदक जीते

img

दोहा
एशियाई खेलों की स्वर्ण पदक विजेता और मौजूदा हेप्टाथलन चैंपियन स्वप्ना बर्मन और चार गुणा 400 मीटर मिश्रित रिले टीम ने मंगलवार को यहां एशियाई एथलेटिक्स चैंपियनशिप में भारत के लिए रजत पदक जीते। बाईस वर्षीय स्वप्ना ने सात स्पर्धाओं में कुल 5993 अंक बनाये और वह उज्बेकिस्तान की एकटेरिना वोर्निना (6198 अंक) के बाद दूसरे स्थान पर रही। एक अन्य भारतीय पूर्णिमा हेम्बराम 5528 अंक लेकर पांचवें स्थान पर रही। स्वप्ना ने पिछली बार 5942 अंक बनाकर स्वर्ण पदक जीता था और उनका इस बार का प्रदर्शन उससे बेहतर रहा लेकिन पिछले साल जकार्ता एशियाई खेलों के 6026 अंक से वह कम था। चैंपियनशिप में पहली बार शामिल की गई चार गुणा 400 मीटर मिश्रित रिले टीम स्पर्धा में मोहम्मद अनस, एमआर पूवम्मा, वीके विस्मया और आरोकिया राजीव की टीम ने तीन मिनट 16.47 सेकेंड के साथ बहरीन की टीम के बाद दूसरा स्थान हासिल किया। आज दो रजत पदक के साथ भारत के खाते में अब दो स्वर्ण, पांच रजत और पांच कांस्य पदक हो गये हैं। महिला चार गुणा 100 मीटर रिले में दुती चंद, अर्चना एस, रेवाती वीरमानी और कुनाथ रंगा की टीम 43.81 सेकेंड के साथ चौथे स्थान पर रही। दुती ने 100 मीटर फर्राटा में निराशाजनक पांचवें स्थान के बाद आज 200 मीटर के फाइनल में जगह बनाई। उन्होंने 23.33 सेकेंड के साथ अपनी हीट जीती। महिलाओं की 3000 मीटर स्टीपलचेज में पारूल चौधरी ने 10 मिनट 3.43 सेकेंड के साथ अपना सर्वश्रेष्ठ समय निकाला लेकिन तब भी वह पांचवें स्थान पर रही। इससे पहले भारत को तब झटका लगा जब पुरूषों की 1500 मीटर दौड़ की राउंड एक हीट से कुछ देर पहले पदक के प्रबल दावेदार जिनसन जानसन ने चोट के कारण हटने का फैसला किया। अजय कुमार सरोज हीट में तीन मिनट 49.20 सेकेंड का समय निकालकर फाइनल में जगह बनाने में सफल रहे। उप मुख्य कोच राधाकृष्णनन नायर ने बयान में कहा की उसकी पिंडली की मांसपेशियों में खिंचाव के कारण वह अभी परेशान है। चिकित्सकों ने उन्हें इस स्थिति में ट्रैक पर नहीं उतरने की सलाह दी। जानसन ने सोमवार को 800 मीटर फाइनल में हिस्सा नहीं लिया था। उनके नाम पर 800 मीटर और 1500 मीटर में राष्ट्रीय रिकार्ड है। प्रतियोगिता के पहले दिन हिमा दास भी पीठ के निचले हिस्से में दर्द के कारण 400 मीटर दौड़ से हट गयी थी।

whatsapp mail