डीईओ ने प्रथम रैण्डमाइजेशन कर मतदान दल के लिये कार्मिकों को चुना

img

भरतपुर
लोकसभा आम चुनाव-2019 में लगने वाले मतदान दल कार्मिकों का प्रथम रैण्डमाइजेशन शुक्रवार को जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. आरूषि अजेय मलिक ने कलेक्ट्रेट स्थित एन आई सी कार्यालय में वीडियोग्राफी के बीच किया। सॉफ्टवेयर में दर्ज 9882 कार्मिकों में से 8703 कार्मिकोंं को प्रथम प्रशिक्षण के लिये बुलाया गया है। जिले में कार्यरत राज्य सरकार/सरकारी निगम/बोर्ड के सभी कार्मिकों का डेटा सॉफ्टवेयर में दर्ज है। इनमें से 2112 पीठासीन अधिकारी, 2112 प्रथम मतदान दल अधिकारी, 2367 द्वितीय मतदान दल अधिकारी और 2112 तृतीय मतदान दल अधिकारी के लिए चुने गये हैं। जिस मतदान केन्द्र पर 1200 से अधिक मतदाता है, वहॉं 1 अतिरिक्त द्वितीय मतदान दल अधिकारी लगाया जायेगा। जितने कार्मिकों की आवश्यकता है, उससे 19 प्रतिशत कार्मिकों को प्रशिक्षण के लिये बुलाया गया है। पीठासीन अधिकारी और प्रथम मतदान दल अधिकारी का प्रथम 2 दिवसीय प्रशिक्षण  विभिन्न बैच में 6 से 8 अप्रेल को मास्टर आदित्येन्द्र राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय और राजकीय महिला पॉलिटैक्निक कॉलेज में होगा। पीओ-द्वितीय और पीओ-तृतीय का प्रथम एक दिवसीय प्रशिक्षण भी इन्हीं दोनों शिक्षण संस्थानों में विभिन्न बैच में 10 से 12 अप्रेल तक होगा। द्वितीय रैण्डमाइजेशन में मतदान दल गठित होंगे यानि यह पता लगेगा कि उस दल विशेष में कौन-कौनसे  कार्मिक होंगे।तृतीय रैण्डमाइजेशन में बूथ आवंटित होंगे। रैण्डमाइजेशन के अवसर पर उप जिला निर्वाचन अधिकारी नारायण सिंह चारण, जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एवं स्वीप प्रभारी बी एल रमण, प्रशिक्षु आईएएस अक्षय कुमार गोदारा, एनआईसी प्रभारी अशोक वर्मा भी उपस्थित थे।