बृज उद्योग एवं हस्तशिल्प मेला 2019 का हुआ शुभारम्भ

img

भरतपुर
जिला प्रशासन एवं जिला उद्योग केन्द्र द्वारा आयोजित बृज उद्योग एवॅ हस्तशिल्प मेला 2019 का शुभारम्भ पर्यटन और देवस्थान मंत्री विश्वेन्द्र सिंह के कर कमलों द्वारा मंगलवार को ग्रामीण हाट में फीता काट कर किया गया। उद्घाटन समारोह की अध्यक्षता जिला कलक्टर डॉ. आरूषि अजेय मलिक द्वारा की गई। इस अवसर पर जिला कलक्टर ने गणेशजी की प्रतिमा के सामने दीप प्रज्जवलित कर माल्यार्पण किया। इस अवसर पर पर्यटन मंत्री ने अपने उद्बोधन में कहा कि मेले के माध्यम से लघु उद्यमियों एवं हस्तशिल्पियों के उत्पादों के विक्रय के लिए बाजार उपलब्ध होने के साथ ही आमजन को घरेलु उत्पाद एक ही स्थल पर मिलते हैं। उन्होंने कहा कि उद्योग एवं हस्तशिल्प मेले का अर्थ तभी सार्थक होगा जब यहां उद्योग विकसित होंगे। उन्होंने यह आशा व्यक्त की कि भरतपुर में पूर्व में संचालित डालमिया डेयरी, जीईडब्ल्यू सहित अन्य बंद पडे उद्योगों को पुन: शुरू कराने के लिए उद्यमियों को प्रोत्साहित कर पे्ररित करें जिससे जिले के युवाओं की बेरोजगारी दूर कर रोजगार उपलब्ध हो सकेगा। उन्होंने कहा कि मेले देश की सांस्कृतिक विरासत हैं इससे मेल मिलाप और भाईचारा बढ़ता है तथा इस प्रकार के हस्तशिल्प मेले में हस्तशिल्पीयों द्वारा निर्मित उत्पादों के विक्रय हेतु एक बाजार मिलता है जिससे हस्तशिल्पी एवं लघु उद्यमियों को अपने उत्पाद को विक्रय करने में सहयोग मिलता है। समारोह की अध्यक्षता करते हुए जिला कलक्टर ने अपने उद्बोधन में कहा कि इस मेले में जिले के साथ ही राज्य के अन्य जिलों के हस्तशिल्पि एवं दस्तकार अपने उत्पादन का प्रदर्शन कर रहे हैं जिससे उनके उत्पादों के विक्रय के माध्यम से उनको लाभ होने के कारण उनको प्रोत्साहन मिलेगा। उन्होंने कहा कि मेले से आमजन को जोडने के लिए मेला परिसर में विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों में प्रतियोगिता, मैजिक शो एवं कवि सम्मेलन आदि का आयोजन किया जायेगा साथ ही मेले में बच्चों के आकर्षण के लिए विभिन्न प्रकार के झूले, चकरी आदि लगाये गये हैं। उन्होंने कहा कि मेले में भाग लेने वाले उद्यमियों को आरसेटी एवं आरकेसीएल के माध्यम से प्रशिक्षित कर उनके उत्पादों में गुणवत्ता बढ़ाने का प्रयास किया जायेगा तथा बैंकों के माध्यम से ऋण भी उपलब्ध कराया जायेगा। मेले में जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबन्धक बी0एल0मीना ने सभी अतिथियों का स्वागत किया तथा मेले की गतिविधियों एवं उद्देश्य के बारे में विस्तार से प्रकाश डाला तथा बताया कि इस मेले में जिले एवं राज्य के अन्य जिलों के हस्तशिल्पियों, दस्तकारों एवं स्वंयसहायता समूहों के माध्यम से लगभग 90 स्टॉल लगायीं गयी हैं जिनमें उदयपुर से शनील की चद्दरें, टावल एवं शर्टिंग क्लाथ, बीकानेर की नमकीन भुजिया एवं रसगुल्ला, सहारनपुर से लकड़ी का कलात्मक फर्नीचर, टोंक के नमदे व गलीचा, कश्मीर के ऊनी शॉल एवं सूट, भुसावर का प्रसिद्व अचार एवं मुरब्बा एवं सिमको लि0 द्वारा निर्मित ट्रैक्टर का भी प्रदर्शन किया जा रहा है। उद्घाटन समारोह में पूर्व महाप्रबंधक गजराज सिंह, मेला प्रभारी एवं जिला उद्योग अधिकारी कृृष्ण अवतार शमा एवं वीरेन्द्र सिंह, ब्रज उद्योग संघ के पूर्व अध्यक्ष राधेश्याम गोयल, फोर्टी अध्यक्ष अनुराग गर्ग, भरतपुर व्यापारी एकता समिति के संस्थापक अध्यक्ष चंद्रकांत गर्ग, सिमको लि. के मुख्य प्रशासक जगवीर सिंह एवं सुरेश पाराशर सहित अन्य गणमान्य नागरिक तथा उद्यमी उपस्थिति रहे। मंच का संचालन कवि हरिओम हरि एवं धन्यवाद वीरेन्द्र सिंह, जिला उद्योग अधिकारी द्वारा किया गया।