मैं हिसाब मांगता हूं और हिसाब देता भी हूं : मोदी

img

भीलवाड़ा
राजस्थान के चुनावी रण में हर हाल में सरकार बनाने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पूरे जोश के साथ प्रदेश के दौरे पर हैं। आज सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भीलवाड़ा में सभा के दौरान कहा कि इस बार राजस्थान ने ठान लिया है कि राजस्थान में एक बार फिर से भाजपा सरकार बनाकर रहेंगे। विकास की यात्रा को और नई ताकत देंगे और इतिहास में नया अध्याय लिखने का काम राजस्थान की धरती करेगी। मोदी ने कहा, ''मैंने कहा था कि मैं परिश्रम करने में कोई कमी नहीं रखूंगा। मेरी मेहनत में आपको कोई कमी नजर आती है? दिन-रात काम करता हूं या नहीं? आपने कभी सुना कि मैंने छुट्टी ली? आपने कभी सुना है कि मैं यहां टहलने चला गया। आपने कभी सुना कि मैं सात दिन खो गया? मैं मेरा हिसाब दे रहा हूं। बता दें कि राहुल गांधी ने 2015 में 60 दिन की छुट्टी ली थी, इस दौरान वे संसद सत्र में भी शामिल नहीं हुए थे। पीएम ने कहा कि विपक्ष मेरे काम का हिसाब मांगता है। आपके यहां उनके नेता आ जाएं तो उनसे पूछ लेना कि देश की आजादी को 60 साल हो गए। उसके बाद प्रधानसेवक को सेवा करने का मौका दिया। मैं जो वादा करता हूं कि वह पूरा करता हूं कि नहीं? 60 साल तक नामदार की पीढ़ी से सवाल पूछने की हिम्मत किसी ने नहीं की। मुझमें हिम्मत है। जबाब देना होगा। आप तो नामदार हैं। जनता हिसाब नहीं मांग सकती। मोदी हिसाब मांगता भी है और हिसाब देता है। पल-पल और पाई-पाई का हिसाब देता है। पीएम मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधने हुए कहा कि कांग्रेस ने सवाल उठाया कि सर्जिकल स्ट्राइक का वीडियो दिखाओ। क्या देश का सेना का जवान जब मौत को मुठ्ठी में लेकर निकलता है तो क्या हाथ में कैमरा लेकर जायेगा? उन्होंने कहा कि जब मुम्बई में आतंकी हमला हुआ, तब दिल्ली और महाराष्ट्र में कांग्रेस की सरकार थी। हमले के समय राजस्थान में चुनाव अभियान चल रहा था। जो भी इस घटना की आलोचना करता। इसके खिलाफ मुहं खोलता तो ये राजदरबारी बोलने वाले के मुहं पर ताला लगा देते थे। वे इसे पाकिस्तान के साथ युद्ध बताते और कहते कि आतंकवाद के नाम पर राजनीति की जा रही है। दस साल पहले हुई इस आतंकी घटना से पूरी दुनिया दहल गई थी। हमनें आतंकवाद की ऐसी लड़ाई लड़ी है कि आज उन्हें कश्मीर की धरती से बाहर निकलना महंगा पड़ रहा है। हिंदुस्तान कभी भी 26/11 को भूलेगा नहीं ओर उसके गुनहगारों को माफ नहीं करेगा। हम मौके की तलाष में है, मौका आने दीजियें कानून अपना काम करेगा। मोदी ने आतंकवाद, दूसरी तरफ मोओवाद व नक्वालवाद की भी चर्चा की। उन्होंने कहा कि कांग्रेस माओवादियों को सर्टिफिकट दे रही है और हमनें उनसे लोहा लिया है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में हिंसा को कोई स्थान नहीं होता। उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर में पंचायत चुनाव करा रहे है। आतंकवादियों ने चेतावनी दी कि जिनकी अंगुलियों पर निशान होगा उनकी अंगुलियां काट दी जाएगी लेकिन वहां तीन चरणों में चुनाव पूरा हुआ है। उन्होंने संविधान दिवस की चर्चा करते हुए डॉ. भीमराव अम्बेडकर को याद करते हुए कहा कि आज का दिवस सामाजिक न्याय में विश्वास करने का दिन है। यह संविधान दिवस है और डॉ. अम्बेडकर को में भीलवाड़ा की धरती से नमन करता हूं। उन्होंने कहा कि अगर भारत का प्रधानमंत्री अमेरिका जाता है, वहां का प्रधानमंत्री मिलता है तो वह जात पूछता है क्या? जब वहां प्रधानमंत्री जाता है तो उन्हें सवा सौ करोड़ लोगों का भारत का प्रधानमंत्री दिखता है, लेकिन कांग्रेस के नेता जातिवाद का जहर फैला रहे है। मोदी ने कहा कि भ्रष्टाचार, शिक्षा, विकास की चर्चा हो लेकिन चुनाव में जातिवाद की चर्चा हो रही है। उन्होंने एक वीडियो की चर्चा करते हुए कहा कि मोदी होता कौन है जो चार पीढियों का हिसाब मांग रहा है लेकिन मैं कामगार हूं और कामगार के हिसाब से हिसाब मांग रहा हूं और आपको जवाब देना पड़ेगा। उन्होंने कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए कहां कि मोदी हिसाब मांगता भी है और पल-पल का हिसाब देता भी है। मोदी ने कहा कि मैंने देशवासियों से वादा किया था और फिर दोहरा रहा हूं कि मैं परिश्रम करने में कोई कमी नहीं रखूंगा। उन्होंने लोगों से पूछा कि क्या मेरी मेहनत में कोई कमी नजर आई है क्या? उन्होंने कहा कि मैं कभी टहलने चला गया या कभी सात दिन गायब हो गया। मैं मेरा पाई-पाई और पल-पल का हिसाब दे रहा हूं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेता आ जाय तो उनसे भी हिसाब पूछ लेना। उन्होंने कहा कि देश की आजादी को साठ पैंसठ साल का समय बीत गया उसके बाद आपने मुझे सेवा का मौका दिया। कांग्रेस की चार पीढ़ी और हमारे चार साल में, उनकी चार पीढी दिल्ली से लेकर पंचायत तक उन्ही का राज था लेकिन गांवों में चालीस फीसदी भी शौचालय की सुविधा नहीं थी। लेकिन चार साल में मोदी ने 90 फीसदी शौचालय की सुविधा कर दी है। इसे काम बोलते है कि नहीं, ऐसा काम होना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस के राज में 50 प्रतिशत लोगों के बैंक में खाते थे और चार साल में 95 फीसदी लोगों के बैंक में खाते खोल दिया। कांग्रेस तो खाली जाति कौनसी है, पिता कौन है यही पूछती रहेगी। मोदी ने उज्वला योजना की चर्चा करते हुए कांगे्रस पर कटाक्ष किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के राज में गैस के लिए लोगों को लाईनें लगानी पड़ती थी। लेकिन आज मात्र चार साल में 90 फीसदी लोगों को गैस की सुविधा उपलब्ध कराई है। मोदी ने कहां कि आपके यहां पानी तीन दिन के बाद आता था, पानी के लिए भीलवाड़ा तरसता था, चम्बल के पानी को कांग्रेस ने लटकाया था। मोदी का हिसाब किताब मांगने वाले भीलवाड़ा में पानी तो पहुंचा देते। उन्होंने वसुंधरा का अभिनंदन करते हुए कहा कि उन्होंने भीलवाड़ा में चम्बल का पानी पहुंचाया।  उन्होंने कहा कि हमने चार साल में सड़कें बनाई है चाहे वह गांव की हो या हाइवे की सड़के बनाई है। सत्तर हजार करोड़ के तीन हाइवे एक्सप्रेसवे बनाये जा रहे है। उन्होंने कहा कि भीलवाड़ा मैनचेस्टर में आने वाला है। उन्होंने कहा कि ट्रांसपोर्टेेशन भी बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि 16 हजार करोड़ रुपए की लागत से रेलवे का नेटवर्क खड़ा कर रहे है। माल ढोने वाली ट्रेन भी सत्तर की रफ्तार से चलेगी। उन्होंने कि राजस्थान हाथ फैलाकर मांगने वाला नहीं है। इसलिए हम प्रधानमंत्री मुद्रा योजना लाये जिसमें 14 करोड़ लोगों को बिना गारंटी बंैक लोन दिया है जिससे नव युवाओं को रोजगार मिला है। कोई टैक्सी चला रहा है, कोई दुकान चला रहा है। खुद तो कमा रहे है और दूसरों को भी रोजगार दे रहे है। 50 लाख लोगों को राजस्थान में मुद्रा योजना का लाभ मिला है। अन्त में उन्होंने कहा कि चार साल पहले जिस तरह सेवा का मौका दिया है एक बार फिर भाजपा को जिता दीजिये राजस्थान को हम कहां से कहां पहुंचा देंगे। सभा के पहले मोदी ने सांसद सुभाष बहेडिया, चित्तौड़ सांसद सी.पी जोशी, शक्ति सिंह हाड़ा, जिलाध्यक्ष लक्ष्मीनारायण डाड, संयोजक दामेादर अग्रवाल, जिला प्रभारी पुखराज पहाडिया, जिला प्रभारी गुरूचरण सिंह, नगर परिषद सभापति दीपिका कंवर, प्रत्याशी कैलाश मेघवाल, कालूलाल गुर्जर, वि_लशंकर अवस्थी, गोपाल खण्डेलवाल, रूपलाल जाट, गोपीचंद मीणा, जब्बर सिंह सांखला के साथ ही विशाल जनसमूह का अभिवादन किया।