लोकतंत्र को मजबूत करने के लिये शत-प्रतिशत मतदान करें : डीएम

img

धौलपुर
जिला निर्वाचन अधिकारी नन्नूमल पहाडिया ने कहा कि हमें मिलकर ऐसा प्रयास करना होगा ताकि सभी मतदाता अपने मताधिकार का आवश्यक रूप से उपयोग करें। जिला निर्वाचन अधिकारी कलेक्ट्रेट सभागार में मतदाताओं का जागरूक करने के लिये मीडिया एवं दिव्यांगों की आयोजित बैठक में संबोधित कर रहे थे। उन्होने कहा कि लोकतंत्रा के इस महापर्व में सभी मतदाताओं को निष्पक्ष व स्वतंत्रातापूर्वक मतदान के प्रति जागरूक करें। उन्होंने कहा कि सभी सामाजिक संगठनों एवं स्वंयसेवी संस्थाओं द्वारा चुनाव में मतदाताओं को मतदान के प्रति जागरूक करने के लिये अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभायें। अपनी भूमिका निभाते हुए लोकतंत्र को मजबूत करने के लिये शत-प्रतिशत मतदान कराना आवश्यक है। क्योंकि लोकतंत्र में मतदान बहुत महत्वपूर्ण है। संसार के सबसे बड़ा प्रजातांत्रिक देश का नागरिक होने के कारण सभी वर्गो के पदाधिकारियों से अपेक्षा की जाती है कि इस मतदान दिवस के दिन मतदान करने के लिये आमजन को जागरूक करते हुए इस महायज्ञ में अपनी पूर्ण आहुति दें। उन्होंने कहा कि मतदान आपका जन्मसिद्ध अधिकार ही नही बल्कि राष्ट्रीय कर्तव्य भी है इसकी अनुपालना आपकी नैतिक जिम्मेदारी है इस जिम्मेदारी को अपने पूर्ण कर्तव्य व निष्ठा के साथ निभायें। जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि मतदाता जागरूकता अभियान गांव वार चलाया जना है जिसके तहत गांव के बडे, बूढ़े, बुजुर्गो, नौजवानों सभी को मतदान पर प्रकाश डालते हुए उन्हें इसके महत्व बताने हैं और इस बात से शासन द्वारा मतदान को प्रेरित करने के लिए आने वाले नारों के बारे में बताये जिससे लोगों के मतदान करने के प्रति विश्वास जाग सके और लोग पहले मतदान बाद में काम करें जिससे चुनाव आयोग के निर्देश पर चलाया जा रहा जागरूकता अभियान सफल हो सके और लोगों में मतदान के प्रति जागरूकता आने के साथ साथ मतदान का प्रतिशत बढ़ सके। उन्हेांने कहा कि जागरूकता अभियान में लोगों को इस बात से भी रूबरू कराया जाये कि विधानसभा महत्वपूर्ण चुनाव है जो आपके द्वारा चुना गया उम्मीदवार विधानसभा तक पहुंचेगा इसलिए लोगों को यह बताएं कि आप जिस उम्मीदवार को विधानसभा तक पहुंचाये जो ईमानदार हो और सांसद बनने के साथ वह आपके सुख,दुख में शामिल होने के साथ साथ गांव,क्षेत्रा,शहर व जिले का विकास करा सके। उन्होने कहा कि विशेष योग्यजनों के लिए इस बार निर्वाचन आयोग ने घर से मतदान केन्द्रो तक ले जाने व अपना मत देने के बाद घर तक पहुॅचाने की व्यवस्था की है। इस कार्य में किसी राजनैतिक दल या उसके पदाधिकारी अपने वाहन में नि:शक्त जन को ले जायेंगे तो यह आदर्श आचार संहिता का उल्लघन माना जायेगा और कड़ी कार्यवाही की जायेगी। दिव्यांगो को मतदान केन्द्र वाईज चिन्हित किया जा रहा है और मतदान केन्द्र पर व्हील चेयर, ट्राई साईकिल इत्यादि की व्यवस्था के साथ ही मत देने के लिए कतार में नही लगना पडेगा। स्वीप कार्यक्रम में प्रिन्ट एवं इलेक्ट्रोनिक मीडिया, सोशल मीडिया की महत्वपूर्ण भूमिका है। हर व्यक्ति मीडिया से जुड़ा हुआ है। मतदाता जागरूक कार्यक्रम के अन्तर्गत मीडिया अपना महत्वपूर्ण योगदान दें। नोडल एवं प्रभारी अधिकारी स्वीप (मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद) शिवचरण मीणा ने कहा कि मीडिया के सहयोग से ही देश में एक स्वस्थ एवं जीवन्त जनतंत्रा की स्थापना कर सकते है। इसलिए आगामी विधानसभा चुनाव में सभी की भागीदारी सुनिश्चित करते हुए इस कार्यक्रम को राष्ट्रीय पर्व का स्वरूप देने का प्रयास करते हुए धौलपुर जिले को पिछले विधानसभा चुनाव में राजस्थान में प्रथम पायदान पर पहुॅचाया लेकिन इस बार पूरे भारत में प्रथम पायदान पर पहुचाने का प्रयास करें जिससे जिले को एक नयी पहचान मिल सके। मतदाता ही लोकतंत्रा में सबसे बड़ी ताकत है उस ताकत को जागृत करने  के लिये सभी को मतदान के प्रति जागरूक करना आवश्यक है। इस लोककतंत्रा की नीवं को मजबूत करते हुए शांतिपूर्ण चुनाव कराने में अपना सहयोग प्रदान करें। उन्होने कहा कि अभी मतदाता सूची में नाम जुडवाने का कार्य चल रहा है। जिसकी उम्र 18 साल की हो चुकी है वह अपना नाम मतदाता सूची में अवश्य जुडवाये। मतदाता सूची में नाम जुडवाने के लिये बूथ लेवल अधिकारी से मिलकर अपना नाम जुडवाये। उन्होने मतदाता जागरूक कार्यक्रम की रूपरेखा के बारे में विस्तार से चर्चा की। बैठक में पूर्व राजस्थान लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष डॉ राधेश्याम गर्ग, जिला समन्वयक पीडब्ल्यूडीएस दामोदर लाल मीना, अतिरिक्त पीडब्ल्यूडीएस सहसमन्वयक अजय रावत सहित सम्बंधित अधिकारी, दिव्यांग, प्रिन्ट एवं इलेक्ट्रोनिक मीडियाकर्मी उपस्थित रहे।