सभी परीक्षा केन्द्रों पर परीक्षार्थियों के लिए शीतल पेयजल की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए : नेहा गिरि

img

धौलपुर
पंजीयक शिक्षा विभागीय परीक्षाए, राजस्थान बीकानेर के द्वारा 26 मई को आयोजित होने वाली प्रारम्भिक शिक्षा में डिप्लोंमा सामान्य, संस्कृत प्रवेश परीक्षा 2019 के सफल आयोजन को लेकर जिला कलक्टर नेहा गिरि की अध्यक्षता में समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में उन्होंने निर्देश देते हुए कहा कि राजकीय संस्था में परीक्षा केन्द्र होने पर उसी संस्था के प्रधान को केन्द्राधीक्षक बनाया जाए तथा गैर राजकीय संस्था में परीक्षा केन्द्र होने पर स्कूल शिक्षा विभाग से प्रधानाचार्य, प्रधानाध्यापक अथवा समकक्ष स्तर के राजपत्रित अधिकारी को केन्द्राधीक्षक नियुक्त किया जाए। उन्होंने कहा कि परीक्षा के दौरान अपने केन्द्र पर परीक्षा का समुचित संचालन, पर्यवेक्षण, निरीक्षण एवं नियन्त्राण करना सभी का प्रमुख दायित्व होगा। केन्द्राधीक्षक के अतिरिक्त केन्द्र पर ड्यूटी के लिए उपस्थित किसी भी अधिकारी के पास मोबाईल फोन नहीं हो यह सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि परीक्षार्थियों को पुस्तके, कागज, मुद्रित अथवा लिखित सामग्री कैलक्यूलेटर, घड़ी, मोबाईल फोन, ब्लूटूथ डिवाइस अन्य कोई इलेक्ट्रोनिक उपकरण नहीं लाने दिए जाए। नकल हेतु कोई अनुचित या कोई गैर कानूनी सामग्री परीक्षार्थी के पास पाए जाने पर कानूनी कार्यवाही किया जाना सुनिश्चित करें। केन्द्राधीक्षक परीक्षा के दौरान किसी भी परिस्थिति में मुख्यालय नहीं छोड़े। उन्होंने निर्देश दिए कि केन्द्राधीक्षक परीक्षा केन्द्र पर कानून व्यवस्था एवं अनुशासन बनाए रखने के लिए पुलिस की मदद लेना सुनिश्चित करे। परीक्षा के दौरान अधिकृत अधिकारियों के अलावा अन्य किसी का केन्द्र पर आवागमन की शत-प्रतिशत रोकथाम सुनिश्चित करें। गर्मी के मौसम को देखते हुए उन्होंने निर्देश दिए कि सभी परीक्षा केन्द्रों पर परीक्षा के लिए निर्धारित कक्षों में पंखे, फर्नीचर, बल्ब एवं ट्यूबलाइट पेयजल के लिए मटको इत्यादि की समुचित व्यवस्था किया जाना सुनिश्चित करें। परीक्षा से सम्बन्धित जिला स्तरीय कन्ट्रोल रूम स्थापित किया गया है जिसका दूरभाष नम्बर 05642-220796 रहेगा जिस पर परीक्षार्थी किसी भी प्रकार की परीक्षा सम्बन्धित जानकारी प्राप्त कर सकते है। जिला शिक्षा अधिकारी कृष्णवीर सिंह ने बताया कि प्री डी.एल.एड परीक्षा के लिए जिले में 62 परीक्षा केन्द्र बनाए गए है। धौलपुर में 41, बाड़ी में 9 बसेड़ी में 5 तथा सैपऊ में 7 परीक्षा केन्द्रों पर परीक्षार्थी परीक्षा देगें। परीक्षार्थियों को परीक्षा सेन्टर के सम्बन्ध में परेशानी नहीं आने के लिए गुलाब चौराहा, बस स्टैण्ड, रेल्वे स्टेशन पर पूछताछ सेन्टर खोलने के साथ ही होर्डिग्स लगाए जाएगें। बैठक में उप खण्ड अधिकारी भंवर लाल कांसोटिया, तहसीलदार बाड़ी व राजाखेड़ा सहित नरेश जैन, अशोक उपाध्याय व शिक्षा विभाग के सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहे।