जयपुर सहित कई जगहों पर आंधी-बारिश के साथ गिरे ओले, झालावाड़ में चार बच्चोंं की मौत

img

जयपुर
राजस्थान में मौसम में आए बदलाव का असर दूसरे दिन मंगलवार को भी रहा। प्रदेश के कई हिस्सों में तेज हवाओं के साथ बारिश हुई व ओले भी गिरे। राज्य में मंगलवार को जयपुर, टोंक, गंगानगर व कोटा सहित कई स्थानों पर तेज हवाओं के साथ बारिश हुई। बारिश से जहां गर्मी से राहत मिली वहीं किसानों के लिए यह परेशानी लेकर आई। इससे तापमान में गिरावट हुई। झालावाड़ में दो अलग-अलग स्थानों पर हुए हादसे में चार बच्चों की मौत हो गई व राजसमंद में बिजली गिरने से एक युवक मौत हो गई। वहीं, अजमेर, बीकानेर, भीलवाड़ा, प्रतापगढ़,डूंगरपुर, श्रीगंगानगर सहित कई हिस्सों में ओलावृष्टि हुई। इस दौरान बादलों की गडगडाहट से किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें नजर आने लगी।

जिले में बिजली गिरने व मकान ढहने से चार बच्चों की मौत
झालावाड़ में मंगलवार को दो अलग-अलग स्थानों पर हुए हादसे में चार बच्चों की मौत हो गई। बकानी क्षेत्र में गणेशपुरा गांव में एक मकान ढहने से दो बच्चों की मौत हो गई। मृतकों में शिवानी 12 व मनी 9 वर्ष पुत्र रामकरण की मौत हो गई। वहीं रात्याडूंगरी गांव में मंदिर पर आकाशीय बिजली गिरने से भारी नुकसान हुआ है।

बिजली गिरने से दो बच्चों की मौत
मनोहरथाना क्षेत्र के समरोल गांव में खेत पर अपनी मां के साथ खेत पर काम करने के दौरान दो बच्चों के ऊपर आकाशीय बिजली गिरने से मौके पर ही दोनों बच्चों की मौत हो गई। रवि उम्र 6 वर्ष पुत्र जगदीश लोधा व अंजू 8 पुत्री राधेश्याम लोधा की मौत हो गई। दोनों चचरे भाई-बहन है।

बिजली गिरने से युवक की मौत
राजसमंद: खमनोर क्षेत्र में बिजली गिरने से युवक मनजूर खां (19) की मौत हो गई। मनजूर परावल गांव में एक घर में पुताई का काम कर रहा था। बता दें कि सोमवार को ही जिले के रेलमगरा क्षेत्र में खेत में कार्य कर रहे किशोर की आकाशीय बिजली गिरने से मौत हो गई थी।

किसानों में छायी मायूसी
बारिश एवं ओलों से नुकसान के बाद किसानों के चेहरे मुरझा गए। कुछ किसानों ने फसलें काटने के साथ अनाज आदि निकाल लिया, जहां चारे में नुकसान हुआ। मगर रविवार एवं सोमवार को काटी गई फसलों में अनाज निकालने एवं फसलों के पूलों के ढेर नहीं बनाने से ज्यादा नुकसान हुआ है।