मतदान केन्द्रों पर पेयजल, छाया और कानून व्यवस्था के माकूल इंतजाम किए जाए : मुख्य निर्वाचन अधिकारी

img

जयपुर
मुख्य निर्वाचन अधिकारी आनंद कुमार ने कहा कि राज्य में स्वतंत्र, निष्पक्ष और शांतिपूर्ण चुनाव कराने के लिए अधिकारीगण पूर्ण मुस्तैदी के साथ काम करें। उन्होंने मतदान केंद्रों पर पेयजल और छाया जैसी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने और क्षेत्र में कानून एवं व्यवस्था मजबूत बनाए रखने के लिए जिला निर्वाचन अधिकारियों और पुलिस अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। कुमार गुरुवार को वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए राज्य में प्रथम चरण में 29 अप्रेल को होने वाले लोकसभा आम चुनाव के रिटर्निंग अधिकारियों, पुलिस आयुक्त गण, पुलिस महानिरीक्षक एवं पुलिस अधीक्षकों से चुनाव से पूर्व की गई तैयारियों पर चर्चा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मतदान दिवस पर फोटो युक्त मतदाता पहचान पत्र के अलावा भारत निर्वाचन आयोग द्वारा अधिकृत 11 वैकल्पिक दस्तावेजों के बारे में आमजन मतदाता को जागरूक करें। उन्होंने सभी जिला कलेक्टर्स से आदर्श आचार संहिता की पालना सुनिश्चित करवाने, मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के उम्मीदवारों को मतदाता सूचियों की प्रति उपलब्ध कराए जाने, मतदाता फोटो पहचान पत्र के वितरण की स्थिति, पोलिंग पार्टियों की रवानगी, सुरक्षा बलों की तैनातगी, वेबकास्टिंग, ब्रेल मतपत्र, ईवीएम-वीवीपैट की मतदान के लिए तैयारी, निर्वाचन व्यय मॉनिटरिंग, आयोग की विभिन्न आईटी एप्लीकेशंस जैसे सी-विजिल, सुविधा आदि की क्रियान्विति, स्वीप गतिविधियां की क्रियान्वयन, मतदाता फोटो पर्चियां, एल्फाबेटिक लिस्ट के मुद्रण की स्थिति, चिन्हित प्रतियां तैयार करने की स्थिति सहित अन्य विषयों के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने सभी जिला निर्वाचन अधिकारियों से निरंतर अद्यतन (कन्टीन्यूअस अपडेशन) के दौरान जोड़े गए मतदाताओं के फोटो पहचान पत्र, मतदाता सहायता पुस्तिका (वोटर गाइड) के वितरण के बारे में भी जानकारी ली। जिला निर्वाचन अधिकारी और पुलिस अधिकारियों ने आश्वस्त करते हुए कहा कि चुनाव से जुड़ी सभी तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं। सभी जरूरी वितरण सामग्री मतदाताओं तक समय रहते पहुंचा दी जाएंगी। पुलिस महानिदेशक (कानून एवं व्यवस्था) एमएल लाठर ने कहा कि जिलों में सुरक्षा के माकूल प्रबंध कर दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि कानून-व्यवस्था के उचित संधारण के लिए पुख्ता योजना बनाई जाए ताकि कहीं से भी कोई अप्रिय घटना घटित ना हो। उन्होंने इस दौरान आने वाले त्योहारों पर जिले में तैनात पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों को सर्तकता बरतने तथा मॉनिटरिंग के निर्देश दिए। इस दौरान पुलिस महानिरीक्षक (कानून एवं व्यवस्था) हवासिंह घुमरिया ने भी सभी जिला पुलिस अधीक्षकों को अपने-अपने जिले में स्वतंत्र, निष्पक्ष और शांतिपूर्ण चुनाव सम्पन्न करवाने के लिए पुलिस व्यवस्था पर चर्चा की।