कांग्रेस और भाजपा दोनों दलित विरोधी हैं : मायावती

img

जयपुर
जयपुर में बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती ने आरक्षण को लेकर बीजेपी और कांग्रेस पार्टी पर तीखा हमला बोला है। मायावती ने आरोप लगाया कि कांग्रेस और बीजेपी दोनों ने नौकरियों में आरक्षण को कमजोर किया और दोनो ही दलित विरोधी है। उन्होंने जनता से अपील की कि विधानसभा चुनाव में बीएसपी को वोट देकर जनता दोनों पार्टियों को सबक सिखाए। मायावती सभा को संबोधित करते हुए कहा कि दोनो पार्टियां बिजनसमैन के साथ मिलकर काम करती हैं और केवल उनके हितों की रक्षा के लिए काम करती हैं। उन्होंने कहाकि बीजेपी और कांग्रेस पार्टी के बीच गहरा नाता है और दोनों ही दलों ने आरक्षण को कमजोर कर दिया है। मायावती ने कहा कि कांग्रेस और बीजेपी के शासनकाल में दलितों और अल्पसंख्यकों की हालत बहुत खराब हुई है। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि एससी-एसटी एक्ट में किया बदलाव इसे कमजोर करने के लिए है। साथ ही सरकार प्राइवेट सेक्टर में जॉब देने के लिए काम कर रही है जहां आरक्षण का कोई लाभ नहीं है। मायावती की पार्टी कोटा, बूंदी और सवाई माधोपुर में कई सीटों पर चुनाव लड़ रही है। इन रैलियों के दौरान मायावती ने कहा कि राजस्थान में कांग्रेस पार्टी उनके साथ चुनाव लडऩा चाहती थी। उन्होंने कहा, कांग्रेस ने हमारे लिए बहुत कम सीटें छोड़ी थीं, इसलिए हमने उसके खिलाफ चुनाव लडऩे का फैसला किया।