भारत निर्वाचन आयोग ने की चुनावी तैयारियों की समीक्षा

img

जयपुर
मुख्य चुनाव आयुक्त ओपी रावत, चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा और अशोक लवासा ने शुक्रवार को उदयपुर में प्रदेश के कोटा, जोधपुर और उदयपुर संभाग के संभागीय आयुक्त, पुलिस महानिरीक्षक, जिला निर्वाचन अधिकारी, पुलिस अधीक्षक व निर्वाचन प्रक्रिया से जुड़े अधिकारियों के साथ विधानसभा चुनाव-2018 की समीक्षा बैठक ली। इस मौके पर उन्होंने तीनों संभागों के अधिकारियों से मतदाता सूची, प्रशिक्षण संबंधी, मतदान कर्मियों के लिए व्यवस्था, ईवीएम, चुनाव संबंधी, व्यय अनुवीक्षण, लॉ एण्ड ऑर्डर, आदर्श आचार संहिता, तकनीकी पहलुओं सहित चुनाव संबंधी तैयारियों, कार्यों व नवाचारों पर विस्तार से चर्चा की। बैठक में तीनों संभागों के समस्त जिलों के जिला निर्वाचन अधिकारियों व पुलिस अधीक्षकों ने प्रस्तुतीकरण के माध्यम से जिला स्तर पर की गई तैयारियोंं की विस्तार से जानकारियां दी। उन्होंने निर्वाचन प्रक्रिया के सुचारू संपादन के लिए की गई प्रशासनिक, सुरक्षा व्यवस्था, मतदाता सूचियों, मतदान केंद्रों पर मूलभूत सुविधाओं सहित समस्त चुनाव कार्यों की प्रगति प्रस्तुत की। इस अवसर पर आयुक्तगणों ने उदयपुर में जिला प्रशासन की ओर से मतदाता जागरूकता के लिए नवाचार के रूप में तैयार किए गए 'मतदाता जागरूकता पार्क का डिजीटल लोकार्पण किया। इस दौरान चित्तौडग़ढ़ जिला निर्वाचन अधिकारी इन्द्रजीत सिंह द्वारा तैयार किए गए 'एम-स्वीप मोबाइल एप का भी शुभारंभ किया गया। इससे पूर्व मुख्य निर्वाचन अधिकारी आनंद कुमार ने कार्यक्रम के उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश में विधानसभा चुनाव स्वतंत्र-निष्पक्ष और शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने संबंधित तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं और अधिकाधिक मतदाताओं को मतदान के लिए प्रेरित किया जा रहा है। उन्होंने प्रदेश में आदर्श आचार संहिता की अनुपालना सुनिश्चित करने के लिए गठित विभिन्न दलों और इनके द्वारा शराब के अवैध परिवहन सहित धनबल के दुरूपयोग को रोकने के लिए बरती जा रही सतर्कता व चौकसी के दौरान की जा रही कार्यवाही के बारे में जानकारी दी। इस अवसर पर वरिष्ठ उप चुनाव आयुक्त उमेश सिन्हा, उप चुनाव आयुक्त चंद्रभूषण शर्मा, डॉ. संदीप सक्सेना व सुदीप जैन, महानिदेशक दिलीप शर्मा, महानिदेशक धीरेन्द्र ओझा, सचिव राहुल शर्मा, अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी डॉ. जोगाराम, उप मुख्य निर्वाचन अधिकारी विनोद पारीक एवं निर्वाचन विभाग के अधिकारीगण उपस्थित रहे। गौरतलब है कि 17 नवंबर को आयोग जयपुर के एसएमएस कन्वेशन सेंटर में अजमेर, भरतपुर, बीकानेर और जयपुर संभाग के संभागीय आयुक्तों, जिला निर्वाचन अधिकारियों, पुलिस महानिरीक्षकों, जिला पुलिस अधीक्षकों और चुनाव से जुड़े अधिकारियों के साथ बैठक करेगा। इसी दिन आयोग के आयुक्तगण राज्य के मुख्य सचिव, महानिदेशक पुलिस के साथ विचार विमर्श करेंगे तथा मुख्य निर्वाचन अधिकारी, राज्य पुलिस, सीपीएफ, आयकर, आबकारी, परिवहन, वाणिज्यिक कर विभाग, राज्य की लीड बैंक के समन्वयक, रेलवे तथा एयरपोर्ट के निदेशक के साथ भी बैठक आयोजित कर चुनाव संबंधी दिशा निर्देश देंगे।