राज्य पीसीपीएनडीटी सेल की पंजाब में चिकित्सक सहित चार गिरफ्तार

img

जयपुर
दशहरा के पावन पर्व पर राज्य पीसीपीएनडीटी प्रकोष्ठ एवं जिला पीसीपीएनडीटी टीम हनुमानगढ़ ने शुक्रवार को पंजाब के मोगा जिले में स्थित डिवाईन केयर हास्पिटल में इंटरस्टेट डिकाय आपरेशन कर एक बड़ी कार्यवाही को अंजाम दिया है। इस डिकाय कार्यवाही में भ्रूण लिंग जांच करते 56 वर्षीय चिकित्सक रमन अग्रवाल, हास्पिटल में सहायक के रूप में कार्यरत सतपाल सिंह व दो अन्य दलाल श्रीगंगानगर के लालगढ़जाटान निवासी जगदीश वर्मा एवं बठिण्डा निवासी राजपाल कौर को गिरफ्तार करते हुये काम में ली गयी सोनोग्राफी मशीन एवं डिकाय राशि के हू-ब-हू नोट भी बरामद कर लिये हैं। उल्लेखनीय है कि टीम द्वारा की गयी अब तक की यह 134वीं डिकाय कार्यवाही है। अध्यक्ष राज्य समुचित प्राधिकारी पीसीपीएनडीटी एवं मिशन निदेशक एनएचएम श्री नवीन जैन ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से दलाल जगदीश वर्मा द्वारा हनुमानगढ़ एवं आसपास के क्षेत्र की गर्भवती महिलाओं की पंजाब ले जाकर भ्रूण लिंग जांच कराने की सूचना मिल रही थी। पीसीपीएनडीटी टीम ने तीन-चार दिन मामले की रैकी कर सूचना को पुख्ता किया। श्री जैन ने बताया कि सूचना के पुष्टिकरण के बाद डिकाय दल तैयार किया गया। टीम ने पहले दलाल जगदीश वर्मा से सम्पर्क किया। दलाल जगदीश डिकाय गर्भवती महिला को डबवाली होते हुये पंजाब के मोगा में स्थित डिवाईन केयर से कुछ दूरी पर गाड़ी ले जाकर खड़ी कर दी। वहां से अस्पताल में सहायक के रूप में कार्यरत सतपाल सिंह डिकाय गर्भवती महिला  अस्पताल लेकर आया। अस्पताल में पहले से मौजूद डा. रमन अग्रवाल ने सोनोग्राफी की। सतपाल ने गर्दन हिलाकर भ्रूण लिंग जांच के बारे में जानकारी दी। मिशन निदेशक ने बताया कि ईशारा मिलते ही टीम ने चिकित्सक रमन, दलाल जगदीश एवं सतपाल सिंह को गिरफ्तार कर लिया। साथ ही काम में ली गयी सोनोग्राफी मशीन, सीसीटीवी फुटेज एवं डिकाय राशि के हू-ब-हू नोट बरामद कर लिये हैं। अन्य डबवाली के सवताखेडा निवासी दलजीत सिंह एवं किरणदीप कौर से मामले की संलिप्तता को लेकर पूछताछ की जा रही है।