ई-मित्र पर प्रतियोगी परीक्षा के आवेदन अब 30रू. महंगे, सरकार ने कमीशन बढ़ाया

img

  • नई दरें एक सितंबर से प्रभावी होंगी, प्रदेश में 55 हजार ई-मित्र
  • करीब 70 लाख लोग प्रतिमाह ई-मित्रों का उपयोग करते हैं

जयपुर
राज्य सरकार ने ई-मित्र संचालकों का कमीशन बढ़ा दिया है। ऐसे में ई-मित्र से 168 ऑनलाइन सेवाओं के लिए पहले से ज्यादा राशि चुकानी होगी। नई दरें एक सितंबर से प्रभावी होंगी। अब प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए ई-मित्र से आवेदन करना 30 रु. तक महंगा हो जाएगा। अभ्यर्थियों को 70 की बजाय 100 रु. चुकाने होंगे। आवेदनों में 4 से 6 दस्तावेज संलग्न करने पर 75 रुपए लिए जाएंगे। साधारण फॉर्म भरने के लिए 25 रुपए लगेंगे। इसी तरह सिविल पेंशनर मेडिकल डायरी के लिए नई रेट 25 रुपए, जीवन प्रमाणपत्र के 25, बिजनेस रजिस्टर फार्म के 25, भामाशाह में मोबाइल नंबर एडिटिंग के 25, आरपीएससी के आवेदन में एडिटिंग के 25 रु. किए हैं। इससे पहले इन सेवाओं के लिए 10 से 15 रुपए शुल्क निर्धारित था। किसी भी परीक्षा, यूनिवर्सिटी या सरकारी स्कीम की 2 हजार रु. तक फीस के 10 रु. और इसके बाद प्रति एक हजार पर 2 रु. बढ़ाकर अतिरिक्त शुल्क लिया जा सकेगा। प्रदेश में 55 हजार ई-मित्र हैं। इन पर कुल 450 प्रकार की सेवाएं दी जाती हैं। करीब 70 लाख लोग प्रतिमाह ई-मित्रों का उपयोग करते हैं।