भावी लेखकों के लिए पेश किया आईराइट मेंटारशिप प्रोग्राम

img

जयपुर
जयपुर बुकमार्क के छठे संस्करण ने भावी लेखकों के लिए नए मेंटॉरशिप प्रोग्राम आईराइट की घोषणा की है। इसके तहत देशभर के लेखकों (पूर्व में प्रकाशित हो चुके या अप्रकाशित) लघु कथाओं से लेकर कविताएं और फिक्शन तथा नॉन फिक्शन के लिए प्रविष्टियां आमंत्रित की गई हैं। पिछले वर्षों में, फेस्टिवल में कश्मीर से कन्याकुमारी तक, विभिन्न सामाजिक एवं भाषायी पृष्ठभूमियों के ऐसे लेखक इस पहले से जुड़ चुके हैं जो पहली बार लेखक बन रहे थे और जिन्हें मेंटॉरशिप की तलाश थी। फेस्टिवल डायरेक्टर और लेखिका नमिता गोखले ने कहा, हम पिछले साल आयोजित पहले बुक क्लब में लेखन प्रतिभा और सर्जनात्मक ऊर्जा से भरपूर प्रविश्टियों से बेहद प्रभावित हुए थे। हम जेबीएम 2019 में अधिक ताजातरीन और अधिक प्रतिभाशाली स्वरों को सुनने को उत्सुक हैं। फेस्टिवल की को-डायरेक्टर नीता गुप्ता ने इस मौके पर कहा, प्रकाशित लेखक होना आज के दौर में ऐसा सपना नहीं रहा है जिसे पूरा न किया जा सके। पूर्व में दो सफल संस्करणों के आयोजन के बाद जयपुर बुकमार्क आगामी संस्करण में फस्र्ट बुक क्लब न्यू राइटर्स मेंटॉरशिप प्रोग्राम के तहत् चुनी गई तीन पुस्तकों के लॉन्च की घोषणा करते हुए गर्व महसूस कर रहा है। इनमें शामिल हैं अविनाश मिश्रा की पुस्तक नए शेखर की जीवनी जो कि वाणी प्रकाशन से प्रकाशित की गई। चंद्रा आर तलवाड़े की अलिदा तथा वत्सला मेंडोंका की शैडो ऑफ द पाम ट्री (2018 में चुनी गई) जो कि ज़ीरो डिग्री पब्लिशिंग द्वारा प्रकाशित की गई है। चंद्रा तलवाड़े ने कहा, मेंटॉरशिप प्रोग्राम नए लेखकों के लिए शानदार मंच है जो कि पुस्तक लेखन की दुनिया के उस पार की झलक दिखाता है। आईराइट ने अतीत में कुछ नए, ताजातरीन लेखन की पहचान की है और यह साहित्यिक गुणवत्ता को भी बरकरार रखे हुए है। प्रोग्राम अपने मंच पर शिरकत कर चुके पुराने प्रतिभागियों के साथ संबंध बनाए रखने में यकीन रखता है और उन्हें अपनी कृतियों के प्रकाशन हेतु उपयुक्त प्रकाशकों से जोड़ता है। अब तक इस प्रोग्राम से करीब 800 प्रतिभागी जुड़े हैं और कुल 40 को मेंटॉरषिप के लिए चुना गया है। इस साल 10 चुनींदा प्रतिभागियों को 26 जनवरी, 2019 को जयपुर बुकमार्क में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया जाएगा ताकि वे अपनी कृतियों को उद्योग के राश्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर के विशेषज्ञों - जिनमें अनुवादक, प्रकाशक और लेखक शामिल हैं, के समक्ष प्रस्तुत कर सकें और हो सकता है कि कुछ को पुस्तक लेखन के सौदे पर हस्ताक्षर करने का मौका भी मिल जाए। इस पैनल में जुबान बुक्स, वाणी प्रकाशन, ज़ीरो डिग्री पब्लिशिंग, लिटरेरी एजेंट - मीता कपूर, जयाप्रिया वासुदेवन, प्रीति गिल और लेखिका मेघना पंत आदि शामिल हैं।