एमवे इंडिया द्वारा जन कला साहित्य मंच संस्था का आयोजन

img

जयपुर
देश की सबसे बड़ी एफएमसीजी डायरेक्ट सेलिंग कंपनी एमवे इंडिया ने पूरे भारत में 10 एनजीओ सहयोगियों के साथ मिलकर लगातार दसवें साल बाल दिवस मनाया। बाल दिवस समारोह एमवे के सीएसआर प्रोजेक्ट सनराइज का हिस्सा है, जिसके तहत एमवे भारत में शिक्षा, स्वास्थ्य और स्वच्छता सुलभता के द्वारा अल्प सुविधा प्राप्त बच्चों की तंदुरुस्ती को बढ़ावा देता है। इस समारोह में अनेक क्रियाकलाप किये गए जिनमें बच्चों ने उत्साहपूर्वक भाग लिया। जयपुर में एमवे इंडिया ने जन कला साहित्य मंच संस्था के साथ मिलकर बच्चों को आकर्षित करने के लिए मजेदार गतिविधियाँ आयोजित की जिनमें हस्तशिल्प, विषयवस्तु आधारित चित्रांकन प्रतियोगिता, मनोरंजक खेल और पपेट शो सम्मिलित थे। मनोरंजक गतिविधियों में बच्चों ने उत्साहपूर्वक भाग लिया।
एमवे इंडिया के सीनियर वाईस प्रेसिडेंट, जी.एस.चीमा ने कहा कि, एमवे इंडिया का सिद्धांत विविध पहलों के माध्यम से लोगों के समग्र कल्याण को बढ़ावा देना और उन्हें अधिकार संपन्न बनाना है। सनराइज प्रोजेक्ट की शुरुआत वर्ष 2008 में की गयी थी। तब से इसके द्वारा पूरे भारत में अल्प सुविधा प्राप्त बच्चों के जीवन में स्वास्थ्य, शिक्षा और स्वच्छता के माध्यम से काफी समृद्धि आयी है।
बाल दिवस एक ऐसा दिन है जब बच्चे मौज-मस्ती करते हुए सीख सकते हैं और हमें उनकी उत्साहपूर्ण सहभागिता देखकर खुशी हो रही है। उनके लिए इस दिन को खास बनाना हमारे लिए प्रसन्नता की बात है. हम अल्प्सुविधाप्राप्त बच्चों के कल्याण के लिए सहायता प्रदान करना जारी रखेंगे। इस अवसर पर जन कला साहित्य मंच संस्था के सचिव, कमल किशोर ने कहा कि, "हमें अपने बच्चों के लिए विगत दस वर्षों से एमवे इंडिया का लगातार सहयोग मिल रहा है. एमवे इंडिया द्वारा इतने बड़े पैमाने पर पूरे देश में समारोहों के आयोजन से बाल दिवस सचमुच खास हो गया है. अपने बच्चों को इतने उत्साह के साथ गतिविधियों में भाग लेते और आनंद उठाते हुए देखकर बेहद खुशी हो रही है. सहभागी बच्चों के बीच पुरस्कार वितरण के साथ समारोह का समापन हुआ. 

एमवे इंडिया की सीएसआर इनिशिएटिव्स के विषय में 

एमवे इंडिया की सीएसआर इनिशिएटिव्स इस मान्यता पर आधारित है कि सामाजिक उत्तरदायित्व का दायरा सामाजिक लाभ के लिए खर्च या संसाधन या पुण्यध्लोक कल्याण के कार्यों से ज्यादा बड़ा है. यह सामाजिक नवोन्मेकष और परिवर्तन लाने का एक अवसर है. यह मान्यता लोगों को बेहतर जीवन जीने में एमवे की सहयोगात्मक दृष्टि में परिलक्षित होती है. कॉर्पोरेट नागरिकता के प्रति समर्पण के मामले में एमवे इंडिया लोगों तक पहुँचने और उनका जीवन उन्नत करने के लिए गंभीर एवं सघन प्रयाक करता है.
एमवे इंडिया अनेक प्रकार की पहलों के द्वारा एक व्यापक सीएसआर प्रोग्राम को सपोर्ट कर रहा है. इसमें विनिर्माण संयंत्र के आस-पास डिंडीगुल जिले के 7 गाँवों में भूजल स्तर उन्नत करने के लिए जल संभरण परियोजना शामिल हैं. एमवे डिंडीगुल जिले में 26 लक्षित गावों के लिए एक ग्राम्य स्वास्थ्य कार्यक्रम में सहयोग कर रहा है जिसका उद्देश्य अल्पग सुविधा प्राप्त लोगों को उत्तम स्वास्थ्य सेवा मुहैया कराना है. इसके तहत लाभार्थियों का नि:शुल्क सामान्य स्वास्थ्य परीक्षण, चुनिन्दा पैथोलॉजिकल जांच करके दवाएं दी जातीं हैं. करीब 20 महीनों में 240 से अधिक नि:शुल्क स्वास्थ्य शिविर लगाए गए हैं जिनसे स्थानीय समुदायों के 50,000 से ज्यादा लोगों को फायदा पहुंचा है. एमवे इंडिया ने डिंडीगुल जिले में ग्रामीणों को लगातार स्वास्थ्य सेवा सपोर्ट मुहैया कराने के लिए एक टेलीमेडिसिन सेंटर स्थापित किया है. इस प्रोग्राम की बदौलत दूरी समाप्त हो गयी है और सुदूर ग्रामीण समुदायों को बेहतर चिकित्सीय सेवाएं सुलभ हुयी हैं. इस सेंटर का लक्ष्य एक साल में 7,000 से अधिक मरीजों का नि:शुल्क इलाज करना है. गत वर्ष एमवे इंडिया ने उत्तर प्रदेश और बिहार के ग्रामीण इलाकों में आजीविका संबंधी प्रशिक्षण और उद्यमिता कौशल प्रदान करने के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य एवं उद्यमिता कार्यक्रम आरम्भ किया था. इस प्रोग्राम का उद्देश्य स्त्रियों के स्वरोजगार को प्रोत्साहित करना और सस्ती स्वास्थ्य एवं स्वच्छता पद्धतियों के बारे में जागरूकता पैदा करना है. एमवे इंडिया ने हाल में पश्चिम दिल्ली के चुनिन्दा स्लम क्षेत्रों में 5 साल से कम उम्र के बच्चों में पोषण अवस्था उन्नत करने के लिए समुदाय आधारित पोषण शिक्षण प्रोग्राम आरम्भ किया है. प्रमुख फोकस एरिया के रूप में एमवे ने दृष्टि दुर्बलता की समस्यार को दूर करने के लिए विभिन्न कदम उठाये हैं. एमवे 'सनराइज' नामक प्रोजेक्ट के तहत अल्पू सुविधा प्राप्त बच्चों को शिक्षा, स्वास्थ्य एवं स्वच्छता में भी सहयोग करता है. फिलहाल, एमवे इस प्रोजेक्ट के अंतर्गत देश भर में 15 से ज्यादा एनजीओ को सहायता प्रदान कर रहा है. एमवे इंडिया को "दिव्यांग नियोजन प्रोत्साहन" वर्ग में 'सीएसआर लीडरशिप समिट ऐंड अवार्ड' से सम्मानित किया गया है. हाल में एमवे इंडिया को दृष्टि दुर्बलता वालों के कल्याण में बहुमूल्य अंशदान के लिए सीएसआर टाइम्स द्वारा प्रतिष्ठित राष्ट्रीय सीएसआर सम्मलेन एवं पुरस्कार समारोह 2018 में 'दिव्यांग' वर्ग में 'बेस्ट कॉर्पोरेट' अवार्ड भी दिया गया है.