जातीय समीकरण साधने के लिए रामनाथ कोविंद को बनाया राष्ट्रपति, ऐसा मैंने एक लेख में पढ़ा है : गहलोत

img

  • भाजपा ने बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया जताई, गहलोत के बयान पर हुआ विवाद  
  • गजेंद्र सिंह को हार सामने दिख रही है, फिलहाल तो जनता उनकी सरकार को उलटा लटकाने जा रही है 
  • भाजपा सरकार को ले डूबेंगे जुमले, मोदी की विदाई यात्रा है यह, इस बार मोदी सत्ता में नहीं आएंगे 

जयपुर
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भाजपा और पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि गुजरात में भाजपा हार रही थी। जातीय समीकरण साधने के लिए रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति बनाया। पहले लालकृष्ण आडवाणी को राष्ट्रपति बनाने की चर्चा थी, देश की जनता को लग रहा था कि आडवाणीजी को उनका सम्मान मिलेगा। लेकिन गुजरात चुनाव में भाजपा को हार का डर था, इसलिए वोटों का समीकरण बैठाने के लिए आडवाणी की जगह वंचित तबके से राष्ट्रपति बनाने का फैसला किया, यह मेरे विचार नहीं मैंने एक लेख पढ़ा है उसमें ये बातें कहीं गई है, और ये बातें सच भी लगती हैं। गहलोत के इस बयान के बाद भाजपा ने कड़ी प्रतिक्रिया जतते हुए संवैधानिक पद पर बैठे राष्ट्रपति को राजनीति में घसीटने का आरोप लगाया। 

भाजपा सरकार को ले डूबेंगे जुमले, मोदी की विदाई यात्रा है यह, इस बार मोदी सत्ता में नहीं आएंगे 
गहलोत ने केंद्र और मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि मोदी सरकार बेरोजगारी के आंकड़े छिपा रही है, मोदी सरकार में ट्रांसपरेंसी नहीं है, ये घोटाले नहीं होने की बातें कर रहे हैं, 5 साल तक लोकपाल नहीं बनाया फिर सुप्रीम कोर्ट के आदेशों के बाद लोकपाल बनाया, कैग की एक सेन्टिटी होती है लेकिन मिस्टर राय ने इस संस्था को बर्बाद कर दिया, यूपीए पर काल्पनिक आंकड़े देकर देश में माहौल बनाया, टू जी और कॉल घोटाले के आरोपों में भी कुछ नहीं निकला। मोदी सरकार ने किसानों के फर्जी आंकड़े मंगवाए, मृदा स्वास्थ्य कार्ड की योजना मैं पहले ला चुका था, एनडीए राज में अनुभवहीन लोग मंत्री बन गए,इसीलिए सर्जिकल स्ट्राइक को भाजपा मुद्दा बना रही है, 1971 के युद्ध में मैं खुद सेवा करने बांग्लादेश बॉर्डर पर गया था, इंदिरा गांधी ने पाकिस्तान के 2 टुकड़े कर दिए लेकिन उन्होंने इस तरह प्रचार नहीं किया जैसे भाजपा कर रही है, इस सरकार को जुमले ले डूबेंगे

गजेंद्र सिंह को हार सामने दिख रही है, फिलहाल तो जनता उनकी सरकार को उलटा लटकाने जा रही है : 
केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के कर्मचारियों अफसरों को उलटा लटकाने के बयान पर पलटवार करते हुए सीएम गहलोत ने कहा, अभी तो जनता उनकी सरकार को उल्टा लटकाने जा रही है। गजेंद्र शेखावत से मुझे यह उम्मीद नहीं थी कि वे इस तरह के शब्द इस्तेमाल करेंगे, लेकिन उन्हें हार सामने दिख रही है, टेंशन में कई बार ऐसे शब्द निकल जाते हैं, इस बार मोदी के एन्टीवेव चल रही है।