28वें श्रीद्वारका सेवा निधि समारोह में हुआ 4 साहित्यकारों का सम्मान

img

जयपुर
संस्कृत, हिन्दी व राजस्थानी भाषाओं में गद्य एवं पद्यमय रचनाओं से साहित्य निधि को समृद्ध करने वाले स्व. पण्डित श्री महावीर प्रसाद जोशी को समर्पित 28वां श्रीद्वारका सेवा निधि साहित्यकार सम्मान समारोह रविवार को विद्याश्रम स्कूल के महाराणा प्रताप सभागार में सम्पन्न हुआ। समारोह में प्रख्यात संस्कृत विद्वान देवर्षि कलानाथ शास्त्री को 'वैद्य महावीर प्रसाद जोशी प्रज्ञा पुरस्कार' प्रदान कर अभिनंदन किया गया। सम्मान के क्रम में ही भारतीय शास्त्रीय संगीत की मर्मज्ञ प्रो. सुमन यादव को कला क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए 'जावित्री देवी जोशी प्रतिभा पुरस्कार' दिया गया। इसके बाद राजस्थानी भाषा के विख्यात साहित्यकार आईदान सिंह भाटी को 'वैद्य पं. ब्रजमोहन जोशी-मन्नी देवी जोशी राजस्थानी साहित्य पुरस्कार' प्रदान किया गया। साहित्यकार सम्मान की कड़ी में बीकानेर निवासी नन्दकिशोर आचार्य को 'एडोल्फ-माग्दालेना हैनी साहित्य पुरस्कार' से विभूषित किया गया। समारोह के मुख्य अतिथि राष्ट्रीय विचारक राकेश सिन्हा, श्रीद्वारका सेवा निधि के सचिव चन्द्रकान्त जोशी एवं समारोह की अध्यक्षता कर रहे राजस्थान ललित कला अकादमी के चेयरमैन डॉ. अश्विन एम. दलवी ने सभी साहित्यकारों को पुरस्कार स्वरूप शॉल ओढ़ाकर 51,000 रुपए की राशि, चांदी का श्रीफल, प्रशस्ति पत्र एवं स्मृति चिन्ह भेंट किए। इस अवसर पर श्रीद्वारका सेवा निधि के सदस्य अविनाश जोशी, जयन्त जोशी, नयन जोशी, नलिन जोशी एवं अभिषेक जोशी सहित अनेक गणमान्यजन उपस्थित थे। श्रीद्वारका सेवा निधि साहित्यकार सम्मान समारोह में राष्ट्रीय विचारक राकेश सिन्हा का व्याख्यान भी हुआ।