स्वाइन फ्लू की जांच : निजी अस्पताल व लैब 2500 रुपये में करने पर हुये सहमत

img

जयपुर
शहर के प्रमुख निजी अस्पताल व निजी लैब 31 मार्च 2019 तक स्वाइन फ्लू की जांच 2 हजार 500 रुपये में करने पर सहमत हो गये हैं। निजी अस्पतालों व निजी लैब संचालकों को स्वाइन फ्लू की त्वरित जांच करने के साथ ही जांच की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देने के निर्देष दिये गये हैं। मिशन निदेशक एवं विशिष्ट शासन सचिव स्वास्थ्य डॉ. समित शर्मा की अध्यक्षता में मंगलवार को स्वास्थ्य भवन में आयोजित बैठक में यह सहमति व्यक्त की गयी। प्रदेश में स्वाइन फ्लू की प्रभावी रोकथाम के लिये त्वरित जांच की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुये त्वरित जांच उचित दरों पर उपलब्ध कराने में निजी क्षेत्रों की सहभागिता के उद्देष्य से इस बैठक का आयोजन किया गया। सभी निजी अस्पतालों को स्वाइन फ्लू की जांच राज्य सरकार के नोटिफायबल डिजीज एक्ट में अनुमोदित प्रक्रिया अनुसार ही करने के लिये कहा गया है। उल्लेखनीय है कि स्वाइन फ्लू की जांच की दरे अलग-अलग निजी लैब व निजी अस्पतालों में लगभग 4-5 हजार रुपये थी। राज्य के 7 मेडिकल कॉलेज, डीएमआरसी जोधपुर तथा कृस्ना लैब में स्वाइन फ्लू की उक्त जांच राजकीय चिकित्सक द्वारा लिखने पर नि:शुल्क उपलब्ध है। डॉ. लाल पैथ लैब, एसआरएल डायग्नोस्टिक, डॉ. बी.लाल लैब, कृस्ना डायग्नोस्टिक, माईक्रोचैक लैब, डी.के.एम. डायग्नोस्टिक के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। इनके साथ ही शहर के प्रमुख अस्पतालों साकेत हॉस्पिटल, महात्मा गांधी अस्पताल, एसडीएम अस्पताल, नारायणा हृदयालय अस्पताल, सी.के. बिड़ला अस्पताल, मेट्रोमॉस अस्पताल, इटरनल हॉस्पिटल एवं फोर्टिस अस्पताल के प्रतिनिधियों ने भी स्वाइन फ्लू की जांच 2 हजार 500 रुपये में करने पर सहमति दी। मिषन निदेषक एनएचएम ने अन्य संभाग मुख्यालयों के जिला कलक्टरों को पत्र लिखकर निजी अस्पतालों की बैठक आयोजित कर इन्हीं दरों पर स्वाइन फ्लू की जांच करने की सहमति बनाने के निर्देष दिये हैं। बैठक में निदेशक जनस्वास्थ्य डॉ. वी.के.माथुर, मुख्यमंत्री नि:शुल्क जांच योजना के परियोजना निदेशक डॉ. एस.एस. चैहान, डॉ. रवि प्रकाश माथुर सहित संबंधित अधिकारीगण भी मौजूद थे।