मैन्यूफैक्चरिंग एक्सीलेन्स पर 2-दिवसीय लर्निंग मिशन का आयोजन

img

जयपुर
फिक्की राजस्थान स्टेट काउंसिल की तरफ से उद्योग जगत के सदस्यों के लिए मैन्यूफैक्चरिंग एक्सीलेन्स पर विशेष रूप से 2-दिवसीय 'लर्निंग मिशन' का आयोजन किया जा रहा है। इस मिशन का उद्देश्य विनिर्माण एवं गुणवत्ता की सर्वोत्तम कार्यप्रणालियों को सीखना और समझना है। इस संदर्भ में पुणे स्थित प्रोजेक्टस् - महिंद्रा व्हीकल मैन्यूफैक्चरर्स लिमिटेड और फिएट इंडिया ऑटोमोबाइल्स लिमिटेड में कल यह कार्यक्रम आरम्भ हुआ। इस 'लर्निंग मिशन' का फोकस वैश्विक प्रतिस्पर्धा के लिए एमएसएमई इकाइयों में मैन्यूफैक्चरिंग प्रोसेस में प्रतिस्पर्धात्मक सुधार करना है। यह जानकारी फिक्की राजस्थान स्टेट काउंसिल के प्रमुख अतुल शर्मा ने दी। शर्मा ने बताया कि इस 'लर्निंग मिशन' में लगभग 20 प्रतिभागी भाग ले रहे है। इन प्रतिभागियों को मैन्यूफैक्चरिंग की सर्वोत्तम कार्यप्रणालियों की प्रत्यक्ष जानकारी मिल रही है और और इन जानकारियों को विभिन्न क्षेत्रों में लागू करने के व्यावहारिक पहलु भी बताये जा रहें हैं। ये प्रतिभागी उन क्षेत्रों को भी जान सकेंगे, जिनका कर्मचारियों पर प्रभाव पड़ता है, जिससे सुधारात्मक कार्यवाही सुनिश्चित हो सकेगी। इन प्रतिभागियोँ को कार्यान्वयन के वास्तविक स्थल का भ्रमण भी कराया जाएगा।
उल्लेखनीय है कि दुनिया भर के उद्योगों एवं व्यवसायों द्वारा रणनीतियां बनाने, अपने संचालन को प्रभावी बनाने, लागत कम करने, गुणवत्ता में सुधार करने एवं बाजार में अपना ब्रांड स्थापित करने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। वर्तमान युग विचारों एवं प्रक्रियाओं में निरंतर सुधार का है, जो प्रतिस्पर्धात्मक होने का एकमात्र माध्यम है। 'लर्निंग मिशन' में उपर्युक्त गुणों से सम्बंधित जानकारी साझा जा रही हैं।