हैशटैग ब्लंट का जयपुर में दूसरे सैलून का हुआ उद्घाटन

img

जयपुर
हैशटैग ब्लंट का जयपुर में सोमवार को सिरसी रोड स्थित अक्षत मिदौस में दूसरे यूनिसेक्स सैलून का उद्घाटन हुआ। मुख्य अतिथि के तौर पर जगदीश चंद्र, सीएमडी फस्र्ट इंडिया ग्रुप, हैशटैग ब्लंट सैलून के डायरेक्टर यशील पंडेल और मनीषा पंडेल, एन के जैन, सुनील जैन, प्रेसिडेंट क्रेडाई और डॉ रीतू मेहरा उपस्थित रहे। इस दौरान हैशटैग ब्लंट सैलून के डायरेक्टर यशील पंडेल और मनीषा पंडेल ने अपने सैलून से जुड़े अनुभव साझा किए और ये बताया कि हैशटैग ब्लंट का पहला सैलून क्वींस रोड स्थित है जहाँ पर कस्टमर सैटिस्फाइड ही नहीं, कस्टमर डिलाइटेड भी है अत: हैशटैग ब्लंट अपने दूसरे सैलून में कस्टमर डिलाइट को प्राथमिकता देगा। सैलून में हेयर स्पा, हेयर कलर, हेयर कट, हेयर स्टाइलिंग और नेल आर्ट जैसी सर्विसेज है। हैश टैग ब्लंट यूनिसेक्स सेलून अपनी वैशाली नगर के बाद अपनी दूसरी ब्रांच सिरसी रोड, अक्षत मिडास में खोलने जा रहा है। व्यक्तित्व निखार के लिए सैलून का क्रेज बढ़ रहा है। महिला हो या पुरुष, बच्चे हों या बुज़ुर्ग सभी अपने बालों के रख-रखाव के साथ स्वस्थ त्वचा और शारीरिक साफ़ सफाई के प्रति भी जागरूक हो गए है हैशटैग ब्लंट सैलून केवल बालों की कटिंग या स्टाइलिंग तक ही सीमित नहीं है। ये अपने ग्राहकों को बालों की कलरिंग आयरनिंग, शैम्पू और कंडीशनिंग, ऑयलिंग और मसाज, रुट टच-अप, रीबॉन्डिंग, और विभिन फेशियल मेकअप और बेसिक सेलून की सभी तरह की सर्विस भी उपलब्ध कराते हैं। मनीषा पंडेल हैशटैग ब्लंट की मैनेजिंग डाइरेक्टर है और अपनी रूचि और कार्य करने के जूनून के साथ इस पेशे में आयी है। उनकी रूचि को देखते हुए उनके पति यशील पंडेल ने उनके सपने को हकीकत में बदलने में उनका साथ दिया। अच्छी सर्विसेस देने के साथ उनका उद्देश्य 18 वर्ष या उससे अधिक उम्र के बहरे और गूंगे लड़कों और लड़कियों को मेक अप और अन्य संबंधित सौंदर्य सेवाओं में नि: शुल्क प्रशिक्षण प्रदान करना शुरू कर दिया है। जिससे उनको रोजगार के अवसर प्राप्त हो सके। प्रशिक्षण कार्यक्रम छात्रों की क्षमताओं को ध्यान में रखते हुए डिज़ाइन किए गए हैं। चीजों को आसान बनाने के लिए मनीषा पंडेल स्वयं साइन लैंग्वेज सीख रही हैं। हैशटैग ब्लंट पर सीनियर सिटिज़न्स की सेहत और सुंदरता का ख्याल रखते हुए 65 वर्ष के ऊपर के सिटिजऩ के लिए पचास परसेंट डिस्काउंट रखा गया है और 75 के ऊपर उम्र वालो की सिर्फ दुआएं ली जाती है।इसकी यह खासियत इसे और ख़ास बनती है और यहाँ कस्टमर सैटिस्फाइड ही नहीं ,कस्टमर डिलाइटेड भी है.